हैफेड में तैनात चौकीदारों की नौकरी पर लटकी तलवार, डीसी से मुलाकात कर लगाई गुहार

Edited By Gourav Chouhan, Updated: 16 Aug, 2022 06:43 PM

watchmen working in hafed can loose their jobs due to this reason

हैफेड विभाग के अधिकारियों पर इन कर्मचारियों का रजिस्ट्रेशन कौशल विकास योजना के तहत नहीं करवाने का आरोप लगा है। कर्मचारियों ने जिला उपायुक्त के सामने गुहार लगाकर उनका पंजीकरण करवाने की मांग की है।

रोहतक(दीपक): 10 साल से हैफेड में चौकीदार की नौकरी कर रहे लगभग 180 कर्मचारियों की नौकरी पर तलवार लटक गई है। क्योंकि हैफेड विभाग के अधिकारियों पर इन कर्मचारियों का रजिस्ट्रेशन कौशल विकास योजना के तहत नहीं करवाने का आरोप लगा है। कर्मचारियों ने जिला उपायुक्त के सामने गुहार लगाकर उनका पंजीकरण करवाने की मांग की है, ताकि इनका रोजगार बचाया जा सके।

 

कौशल विकास योजना के तहत नहीं हो पाया कर्मचारियों का पंजीकरण

 

बता दें कि हैफेड विभाग में निजी कंपनियों के माध्यम से लगभग 180 चौकीदार पिछले 10 साल से अपनी सेवाएं दे रहे हैं। लेकिन अचानक उनके सामने अपने रोजगार का संकट आ खड़ा हुआ है। दरअसल अब कौशल विकास योजना के तहत हैफेड विभाग में चौकीदार लगाने की बात कही जा रही है। इसलिए पुराने चौकीदारों का रजिस्ट्रेशन कौशल विकास योजना के तहत करने के निर्देश दिए गए थे। इन कर्मचारियों ने अपने सभी दस्तावेज अधिकारियों के पास जमा भी करा दिए थे, लेकिन उनका रजिस्ट्रेशन नहीं कराया गया। वहीं अब कौशल विकास रोजगार का पोर्टल बंद होने के चलते उनका पंजीकरण करने से मना किया जा रहा है।

 

नौकरी जाने से परिवार पालने का संकट हो जाएगा पैदा

 

जिला उपायुक्त के पास फरियाद लेकर पहुंचे कर्मचारियों ने कहा कि कोई भी अधिकारी स्पष्ट जवाब नहीं दे रहा है कि किन कमियों के चलते उनका रजिस्ट्रेशन नहीं किया गया है। लेकिन लापरवाही किसी की भी रही हो उनके सामने परिवार को पालने का संकट आ खड़ा हुआ है। इसलिए वे आज डीसी के सामने गुहार लगाने के लिए पहुंचे। कर्मचारियों ने कहा कि अगर यहां भी समाधान नहीं हुआ तो वे बर्बाद हो जाएंगे। यही नहीं 2 महीने से निजी कंपनी ने भी उन्हें तनख्वाह नहीं दी है।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!