भ्रूण लिंग जांच  का भंडाफोड़: झोलाछाप डाक्टर फरार, गर्भपात करने वाली 36 गोलियां बरामद

Edited By Isha, Updated: 30 Jul, 2022 09:31 AM

quack doctor absconding 36 abortion pills recovered

अम्बाला के स्वास्थ्य विभाग ने भू्रण लिंग जांच के मामले का भंडाफोड़ किया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस मामले को लेकर डाक्टरों की टीम का गठन किया गया, जिसमें उपसिविल सर्जन डा. बलविंद्र कौर, डा. हितार्थ मार्कंडेय और डा. अंकुर शर्मा को शामिल किया गया। इसके...

अम्बाला शहर : अम्बाला के स्वास्थ्य विभाग ने भू्रण लिंग जांच के मामले का भंडाफोड़ किया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस मामले को लेकर डाक्टरों की टीम का गठन किया गया, जिसमें उपसिविल सर्जन डा. बलविंद्र कौर, डा. हितार्थ मार्कंडेय और डा. अंकुर शर्मा को शामिल किया गया। इसके बाद एक गर्भवती महिला को इसमें शामिल होने के लिए तैयार किया गया। 


टीम को लीड कर रही डा. बलविंद्र कौर के अनुसार उन्हें सूचना मिली थी कि कुरुक्षेत्र में 40 हजार रुपए में लिंगजां च कर बताया जा रहा था कि गर्भ में लड़का पल रहा है या फिर बेटी। उसके बाद अम्बाला से एक गर्भवती महिला को तैयार कर दलाल जङ्क्षतद्र के साथ गाड़ी में भेज दिया गया और अम्बाला स्वास्थ्य विभाग की टीम उनके पीछे हो ली।डा. बलविंद्र कौर के अनुसार दलाल महिला को लेकर शाहाबाद के रास्ते कुरुक्षेत्र में एक अल्ट्रासाऊंड केंद्र पर लेकर पहुंचा, जहां के आप्रेटर ने ऐसा करने से मना कर दिया। जिसके कारण स्वास्थ्य विभाग की कुरुक्षेत्र वाली रेड नाकाम रही। उसके बाद दलाल महिला को अल्ट्रासाऊंड के लिए करनाल ले गया।  उसी समय करनाल के स्वास्थ्य विभाग के साथ अम्बाला की टीम ने सम्पर्क साधा और संयुक्त टीम बनाकर योजनाबद्ध तरीके से काम करना शुरू किया। लेकिन दलाल ने यहां भी स्वास्थ्य विभाग की टीम को चकमा देते हुए दोपहर बाद गाड़ी को उत्तर प्रदेश की ओर मोड़ लिया और शामली में जाकर रुक गया।   

यहां दलाल जतिंद्र महिला को लेकर एक अल्ट्रासाऊंड केंद्र पर पहुंचा, जहां महिला की जांच की गई। डाक्टर बलविंद्र कौर ने बताया कि यहां महिला का अल्ट्रासाऊंड थाना भवन रोड स्थित शामली के नवजीवन अस्पताल में कथित डाक्टर मोहम्मद नदीम अहमद नामक झोलाछाप डाक्टर ने करते हुए उसे बताया कि उसके गर्भ में लड़की है।  वह उसका गर्भपात करने की दवाई दे देगा। इसी दौरान महिला का इशारा मिलते ही अम्बाला-करनाल की स्वास्थ्य टीम ने जैसे ही रेड की तो नदीम मोबाइल अल्ट्रासाऊंड मशीन लेकर पिछले दरवाजे से फरार हो गया। इस दौरान रेडिंग टीम को वहां से गर्भपात करने वाली 36 गोलियां मिसोप्रोस्टल की बरामद कर ली गई। 

वहीं भ्रूण लिंग जांच कराने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह के 2 दलाल, जिनमें जङ्क्षतद्र और राकेश जोकि कुरुक्षेत्र जिला के रहने वाले हैं। उनको स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 25 हजार रुपए के साथ गिरफ्तार कर लिया। यह कार्रवाई वीरवार रात करीब अढ़ाई बजे तक जारी रही, वहीं स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त टीम ने आरोपियों पर कार्रवाई करने के लिए शामली के थाना भवन में पुलिस को शिकायत दे दी है।  


पुलिस ने नाकाबंदी कर दिया पूरा सहयोग



डा. बलविंद्र कौर ने बताया कि वीरवार को ही उत्तर प्रदेश के शामली में हरियाणा की 2 टीमों ने दस्तक दी थी। इस दौरान अम्बाला की टीम ने भी वहां के स्वास्थ्य विभाग से सहयोग करने को कहा, लेकिन उन्होंने सहयोग करना तो दूर की बात छापामारी के दौरान उन्हें परेशान करने की नीयत से कार्य किया। हालांकि इस दौरान पुलिस ने नाकाबंदी कर पूरा सहयोग किया। दूसरी ओर शामली के डी.एम. ने बतौर ड्यूटी मैजिस्ट्रेट उन्हें एक तहसीलदार मुहैया करवाया, जोकि देर रात तक टीम के साथ ही मौजूद रहे। 


डा. नदीम और जतिंद्र पर पहले भी हो चुकी है कार्रवाई


उपसिविल सर्र्जन डा. बलविंद्र कौर ने बताया कि पी.एन.डी.टी. एक्ट की उल्लंघना करने पर कथित डा. नदीम पर 2021 में भी कार्रवाई हो चुकी है। इस पर कुरुक्षेत्र में पहले भी मामला दर्ज है, वहीं उसका दलाल साथी जङ्क्षतद्र पर भी इसी एक्ट के तहत मामला दर्ज हो चुका है। यह दोनों आरोपी फिलहाल जमानत पर चल रहे हैं। ऐसे में दोनों शातिर एक बार फिर सक्रिय होते हुए अम्बाला ही नहीं यमुना नगर, कुरुक्षेत्र, कैथल, करनाल के अलावा आसपास के जिलों से भी गर्भवती महिलाओं को बहला फुसला कर उनसे मोटी रकम ऐंठते हुए भ्रूण लिंग जांच के नाम पर ठगी करते हैं।
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!