युवक पर हमला करने वाला पंप संचालक एक महीने बाद भी नहीं हुआ गिरफ्तार, ग्रामीणों में भारी रोष

Edited By Vivek Rai, Updated: 21 Jun, 2022 04:25 PM

petrol pump operator who attacked a man was not arrested yet

पलवल के गांव पिंगौड स्थित पेट्रोल पंप के कर्मचारियों द्वारा एक युवक पर जानलेवा हमले करने के मामले में एक माह से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी मुख्य आरोपी की गिरफतारी नहीं हुई है। इसे लेकर ग्रामीणों में पुलिस प्रशासन के प्रति काफी नाराजगी देखी जा...

पलवल(दिनेश): पलवल के गांव पिंगौड स्थित पेट्रोल पंप के कर्मचारियों द्वारा एक युवक पर जानलेवा हमले करने के मामले में एक माह से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी मुख्य आरोपी की गिरफतारी नहीं हुई है। इसे लेकर ग्रामीणों में पुलिस प्रशासन के प्रति काफी नाराजगी देखी जा रही है। ग्रामीणों ने पंचायत कर फैसला लिया है कि यदि जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की गई, तो उनके द्वारा कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। जिसकी जिम्मेदारी स्वयं जिला प्रशासन और पुलिस की होगी।

गांव के पंप पर युवक के साथ हुई थी मारपीट

जानकारी के अनुसार सदर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव पिंगौड़ निवासी बिजेंद्र ने बताया कि बीती 13 मई की सुबह उसका भतीजा अजय अपने घर से बाइक पर सवार होकर फरीदाबाद ड्यूटी करने के लिए जा रहा था। गांव में ही स्थित पेट्रोल पंप पर जब वह पेट्रोल डलवा रहा था, तो किसी बात को लेकर पंप के कर्मचारियों के साथ उसकी कहासुनी हो गई। कहासुनी के दौरान पंप के कर्मचारियों ने उसके भतीजे अजय के साथ मारपीट की। भतीजे द्वारा इस मारपीट की सूचना मिलते ही वे मौके पर पहुंचे तो उसने देखा कि उसका भतीजा सडक़ के पास बैठा हुआ था। उसने बताया कि पंप के कर्मचारियों ने उसके साथ डंडों से मारपीट की है। इसी दौरान वहां पर पंप मालिक किशोर मास्टर का पोता रेंचो आ गया।

पंप मालिक के पोते पर युवक पर जानलेवा करने का है आरोप

पीड़ित ने जब इसकी शिकायत पंप संचालक के पोते से की तो उसने कहा कि पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरा की फुटेज देख लेते हैं। पता चल जाएगा की गलती किसकी है। इतना कहकर वह उसके भतीजे के कंधे पर हाथ रखकर उसे अंदर कमरे की तरफ ले जाने लगा और पंप के कर्मचारियों की तरफ इशारा किया। उसके इशारा करते ही पंप के दो कर्मचारी हाथों में डंडा लेकर आए और उसके भतीजे के साथ फिर से मारपीट शुरू कर दी। मारपीट के दौरान एक कर्मचारी ने डंडे से उसके भतीजे के सिर पर हमला कर दिया। जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा। उन्होंने जब अपने भतीजे को बचाने का प्रयास किया, तो पंप के दूसरे कर्मचारी ने उसके भतीजे की गर्दन दबा दी और रैंचो ने पंप के कर्मचारी से डंडा लेकर अजय के सिर पर फिर से हमला कर दिया।

मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी की मांग कर रहे ग्रामीण

इस मारपीट के बारे में उन्होंने पुलिस में भी शिकायत दर्ज करवाई है। लेकिन पुलिस ने इस मामले में करीब एक माह से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी केवल पंप के दो कर्मचारियों को ही गिरफ्तार किया है, जबकि पंप मालिक के पोते को पुलिस ने अभी तक गिरफ्तार नहीं किया है। उनका कहना है कि इस मामले में वह नेताओं से लेकर पुलिस के आला अधिकारियों से भी मिल चुके हैं। लेकिन इसके बावजूद उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही। जिसको लेकर ग्रामीणों द्वारा आज गांव में पंचायत की गई है और पंचायत में यह निर्णय लिया गया है कि अगर जल्द ही पुलिस द्वारा आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया। तो वह रोड जाम करने के लिए मजबूर होंगे। इतना ही नहीं ग्रामीणों ने इस मामले में केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर पर भी आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस पर दबाव बनाने की बात कही और प्रदेश सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। वहीं इस पूरे मामले में सदर थाना प्रभारी अनिल कुमार का कहना है कि पुलिस द्वारा पंप के दो कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि तीसरा आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहा है। जिसके ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!