क्राइम पेट्रोल देखकर रची साजिश : प्रेमिका ने प्रेमी संग मिलकर एक लड़की को उतारा मौत के घाट, कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा

Edited By Mohammad Kumail, Updated: 29 Mar, 2023 04:14 PM

girlfriend killed a girl along with boyfriend

कोर्ट ने आज हत्या की वारदात को अंजाम देने वाली शातिर युवती को उम्रकैद और 70 हजार रूपए का जुर्माना की सजा सुनाई है। युवती ने प्रेमी संग मिलकर अपने प्रेमी की दोस्त की नशीला पदार्थ पिलाकर गला घोट कर हत्या कर दी थी...

पानीपत (सचिन शर्मा) : कोर्ट ने आज हत्या की वारदात को अंजाम देने वाली शातिर युवती को उम्रकैद और 70 हजार रूपए का जुर्माना की सजा सुनाई है। युवती ने प्रेमी संग मिलकर अपने प्रेमी की दोस्त की नशीला पदार्थ पिलाकर गला घोट कर हत्या कर दी थी। इतना ही नहीं, पहचान छुपाने के लिए चेहरे पर तेजाब डाल दिया था और अपने कागजात और कपड़े हत्या के बाद उस के शव को पहना दिए। ताकि परिजन उसे मरा सोच लें और वह अपने प्रेमी संग फरार हो जाए। लेकिन पुलिस ने ज्योति और उसका प्रेमी कृष्ण को गिरफ्तार किया और सारी वारदात का खुलासा हो गया।

ये था मामला

पानीपत के एसडी कॉलेज का बीए तृतीय वर्ष का छात्र और एनएसएस  का इंचार्ज कृष्ण और आर्य कॉलेज की बीए तृतीय वर्ष की छात्रा ज्योति के बीच प्रेम प्रसंग था। दोनों के परिजन शादी से इंकार कर रहे थे। जब लाख कोशिशों के बाद परिजन नहीं माने तो दोनों ने टीवी धारावाहिक क्राइम पेट्रोल देख कर एक खौफनाक साजिश रच डाली। दोनों ने एक प्लान बनाया कि वह अपने कॉलेजों में अपने जैसी कद काठी की लड़की की तलाश करना शुरू कर दिया। प्रेमी कृष्ण ने अपने एनसीसी कैंडिडेट सिमरन से मुलाकात की। वह कद काठी में देखने में हूबहू ज्योति जैसी लगती थी।

5 सितंबर 2017 को कृष्ण ने कॉलेज की बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा और एनसीसी की कैंडिडेट सिमरन को जीटी रोड पर गौशाला मंदिर के कमरे में यह कहकर बुलाया कि नाटक की रिहर्सल करनी है। बीएससी तृतीय वर्ष के छात्र व गढ़ी छाजू निवासी मंजीत को यह कहकर बुलाया कि कैंप लगाया जाएगा और मिलिट्री के ऑफिसर भी आएंगे। मंजीत री-अपीयर का फार्म भरने की बात कहकर कॉलेज लौट आया। फिर दूसरी बार गया तो कमरा बंद मिला। इससे पहले ज्योति ने अपनी सहेली सिमरन को नशीली कोल्ड ड्रिंक पिला दी और फिर कृष्ण के साथ मिलकर गला घोंट कर हत्या कर दी। ज्योति ने अपने कपड़े भी सिमरन को पहनाए। फिर चेहरे पर तेजाब डाल दिया। मौके पर ज्योति का कॉलेज का आई कार्ड और मोबाइल फोन छोड़ दिया। स्वजनों ने शव ज्योति का मानकर संस्कार कर दिया। उधर ज्योति और कृष्ण दोनों शिमला फरार हो चुके थे और दोनों शिमला के एक होटल में रुके हुए थे। थाना चांदनी बाग पुलिस ने मामला दर्ज किया।

7 सितंबर को पुलिस ने शव की तस्वीर सिमरन के पिता अशोक दुबे को दिखाई। जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पानीपत के थाना में दर्ज थी, उसने बेटी की पहचान की। इसके बाद पुलिस पुलिस को शक हुआ और ज्योति और उसके प्रेमी कृष्ण की तलाश शुरू की। फोन की लोकेशन के आधार पर कृष्ण और ज्योति को शिमला के रॉयल होटल से गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी कृष्ण की 2020  में जेल के अंदर अज्ञात कारण से मौत हो गई थी। कोर्ट ने 28 मार्च 2023 को 26 लोगों की गवाही के बाद ज्योति को दोषी करार दिया और आज उम्रकैद व 70 हजार रुपए का जुर्माना सुनाया है।

मृतक सिमरन की मां उषा दुबे ने बताया की आज उनकी बेटी को इंसाफ मिला है।उनकी बेटी को तो कुछ भी मालूम नहीं था और उसके साथ इतनी बड़ी साजिश रची गई। आज उनको खुशी है की आज बेटी को इंसाफ मिला है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

IPL
Gujarat Titans

Chennai Super Kings

Match will be start at 23 May,2023 07:30 PM

img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!