ओमैक्स सिटी की समस्याओं को लेकर RWA ने की बैठक, कहा- समस्याओं का नहीं हुआ समाधान तो जाएंगे कोर्ट

Edited By Saurabh Pal, Updated: 21 May, 2023 02:28 PM

rwa held a meeting regarding the problems of omaxe city in palwal

जिला स्थित ओमैक्स सिटी में व्याप्त समस्याओं को लेकर आरडबल्यूए ने रविवार को एक बैठक की। इस बैठक में समस्याओं के समाधान को लेकर रणनीति बनाई गई। आरडबल्यूए ने बैठक में कहा कि उन लोगों ने यहां पैसा इसलिए इन्वेस्ट किया था, ताकि बाशिंदे को शहरी सुविधाएं...

पलवल (रुस्तम) : जिला स्थित ओमैक्स सिटी में व्याप्त समस्याओं को लेकर आरडबल्यूए ने रविवार को एक बैठक की। इस बैठक में समस्याओं के समाधान को लेकर रणनीति बनाई गई। आरडबल्यूए ने बैठक में कहा कि उन लोगों ने यहां पैसा इसलिए इन्वेस्ट किया था, ताकि बाशिंदे को शहरी सुविधाएं मिल सकें। लेकिन सिटी के मालिक की मनमर्जी के चलते यहां रहने वाले बाशिंदे बुनियादी सुविधाओं से मरहूम हैं।

आरडब्लूए के पदाधिकारियों ने कहा की यहां मौजूद समस्याओं को लेकर हम प्रशाशन, मालिक व संबंधित सभी को पत्राचार और मीडिया के माध्यम से अवगत करा रहे हैं। उसके बाद भी समस्याओं का समाधान नहीं हा तो वो अदालत का सहारा लेंगे। इस बैठक में आरडब्लूए के प्रधान नरेश पाल सिंह, महासचिव देशराज जाखड़, नेत्रपाल रावत, अजीत लाम्बा, निरंजन चौधरी, वाईके शर्मा, नरवीर सैनी ओमप्रकाश यादव, अनिल गर्ग आदि ने समस्याओं को लेकर विचार रखे। 

आरडब्लूए के प्रधान नरेश पाल सिंह व महासचिव देशराज जाखड़ ने मीटिंग के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि उन लोगों ने ओमैक्स सिटी में इस लिए फ्लैट और मकान खरीदे थे कि उन्हें शहरी तर्ज पर बेहतरीन रिहाइश सुविधाएं मिल सकें। लेकिन यहां के हालात वर्षों बाद भी बद से बदतर हैं। उन्होंने बताया की सिटी में सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है, सीवरेज की गंभीर समस्या बनी हुई है। इसके साथ ही नेरेश पाल सिंह ने कहा कि इन लोगों ने 2012 और 2004 में ही 1762 रुपये प्रति गज के हिसाब से ईडीसी आईडीसी चार्ज ले रखा है, जबकि ओमैक्स हैप्पी होम के लिए 100 रुपये वर्ग गज के हिसाब से ईडीसी आईडीसी चार्ज ले रखा है। इसके बावजूद भी उन लोगों ने बेसिक सुविधाएं मुहैय्या नहीं करवाई। सीवरेज के समस्या से लोग दुखी हैं क्योंकि उसे मोटर के माध्यम से खली प्लॉटों में डाला जाता है। जिससे स्थानीय निवासियों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

आरडब्लूए के प्रधान कहा कि यहां लोग अच्छे परिवेश में रहने के लिए आये थे, लेकिन यहां वो नर्क का जीवन जीने को मजबूर हैं। आरडब्लूए पदाधिकारियों ने कहा की जब इन्होंने पहले ही ईडीसी आईडीसी चार्ज ले लिया तो बॉउंड्री वाल क्यों नहीं बनाया। बॉउंड्री वाल न होने के कारण यहां आये दिन चोरी जैसी घटनाएं होती हैं और बाहरी असामाजिक तत्व भी कॉलोनी के अंदर आकर शरारतों को अंजाम देते हैं। उन्होंने कहा कि इन समस्याओं को लेकर बार बार बिल्डर व ऑथोर्टीज को अवगत कराया जा रहा है। लेकिन समस्या जस की तस हैं। ये सभी यहां के निवासियों को गुमराह करने का काम करते हैं। उन्होंने कहा की यहां एक डिस्पेंसरी और पोस्ट ऑफिस भी बनना था जो आज तक नहीं बन पाए। इसके विपरीत लोग प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज कराने को मजबूर हैं। आरडब्लूए के पदाधिकारियों और अन्य वासिंदों ने कहा कि हम मौजूदा समस्याओं को लेकर सभी संबंधित अधिकारियों और पदाधिकारियों से बात करेंगे अगर इसके बावजूद भी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो मजबूरन हमें अदालत का सहारा लेना पड़ेगा।   

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!