कार्रवाई : हुक्का भरते समय झुलसे युवक मामले में इंस्पैक्टर समेत पूरी चौकी सस्पैंड

Edited By Isha, Updated: 19 Jun, 2022 11:27 AM

in the case of a scorched youth while filling hookah

बंधक बनाकर युवक के साथ कई दिन मारपीट करने, जबरदस्ती हुक्का भरवाते समय आग से झुलसने के मामले में रेलवे सीनियर कमांडैंट ने इंस्पैक्टर राकेश समेत आरपीएफ (रेलवे पुलिस फोर्स) चौकी नरवाना के सभी कर्मचारियों को सस्पैंड कर दिया है।

जींद : बंधक बनाकर युवक के साथ कई दिन मारपीट करने, जबरदस्ती हुक्का भरवाते समय आग से झुलसने के मामले में रेलवे सीनियर कमांडैंट ने इंस्पैक्टर राकेश समेत आरपीएफ (रेलवे पुलिस फोर्स) चौकी नरवाना के सभी कर्मचारियों को सस्पैंड कर दिया है।

गौरतलब है कि ढाकल गांव के 28 वर्षीय युवक रवि ने जीआरपी चौकी नरवाना में दी शिकायत में बताया था कि 7 जून को उसके गांव से आरपीएफ के बृजपाल, ढुल और विजेंद्र तथा एक अन्य उसको नरवाना चौकी में उठाकर लाए थे। 10 जून तक चौकी में बंधक उसके साथ खूब मारपीट की गई थी। इस दौरान उसे हुक्का भरने के लिए आग बनाने को कहा था तो आग पर पैट्रोल डालते समय वह आग की चपेट में आ गया था और बुरी तरह से झुलस गया था। 

जैसे ही आरपीएफ के जवानों को इस बात का पता चला था तो वह आनन-फानन में उसे अस्पताल तथा घर की बजाय सिरसा ब्रांच नहर पर ले गए थे और वहां उसे नहर में फैंक दिया था। वहां किसी अज्ञात ने उसे नहर से बाहर निकालकर डायल 112 को बुला लिया था। 

फिर एंबुलैंस की सहायता से उसे सामान्य अस्पताल ले जाया गया और वहां दाखिल करवाया गया था। इस मामले की जांच करते हुए जीआरपी नरवाना ने एसआई देवेंद्र, एएसआई बृजपाल, सुलतान, बिजेंद्र, प्रदीप के खिलाफ हत्या करने की कोशिश करने, बंधक बनाने और एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी थी।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!