18,000 फुट की ऊंचाई पर पहुंचे दस साइकिल प्रेमी, पंचकूला के 7 सरोकारों का दिया संदेश

Edited By Gourav Chouhan, Updated: 22 Sep, 2022 08:24 PM

cycle lovers of panchkula reached an altitude of 18 000 feet in ladakh

एसीपी ममता सौदा के नेतृत्व में 10 सदस्यीय दल ने साइकिल से हिमालय की दर्राओं को पार करते हुए 17,982 फुट की ऊंचाई पर स्थित लद्दाख के खारदुंगला पहुंचकर 7 सरोकारों का संदेश दिया।

चंडीगढ़(चंद्रेशेखर धरणी): विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता द्वारा पंचकूला के लिए शुरू किए 7 सरोकारों के प्रति जन-जागरूकता लाने के लिए शहर के साइकिल प्रेमियों ने एक बड़े मिशन को सिरे चढ़ाया है। विश्व प्रसिद्ध पर्वतारोही पंचकूला की एसीपी ममता सौदा के नेतृत्व में 10 सदस्यीय दल ने साइकिल से हिमालय की दर्राओं को पार करते हुए 17,982 फुट की ऊंचाई पर स्थित लद्दाख के खारदुंगला पहुंचकर 7 सरोकारों का संदेश दिया। यह दल 9 सितंबर को पंचकूला से रवाना हुआ था। 10 सितंबर को मनाली से साइकिल यात्रा शुरू की और शिशु, जिसपा, सरचु, विसकी नाला, डैबरिंग, पांग, लेह होते हुए 17 सितंबर को अपने मिशन तक पहुंचे। साइकिल यात्रा का आयोजन नेचर एडवेंचर ऑर्गेनाइजेशन की ओर से किया गया।

 

इस मिशन से लौटते ही वीरवार को उन्होंने विस अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता के चंडीगढ़ स्थित आवास पर पहुंच उन्हें पूरे मिशन की जानकारी दी। गुप्ता ने उन्हें इस अभियान की सफलता के लिए बधाई देते हुए भविष्य में भी पंचकूला के लिए कार्य करने का आग्रह किया। इस पर दल के सदस्यों ने आश्वासन दिया कि वे आने वाले समय स्कूल-कॉलेजों में पहुंच कर भी इस अभियान के प्रति जागरूकता लाएंगे।

 

ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि पंचकूला की राष्ट्रीय स्तर पर विशिष्ट पहचान बनाने के उद्देश्य से 7 सरोकार शुरू किए गए हैं। ये सातों सरोकार आम नागरिकों से जुड़े हुए हैं। इसलिए इन्हें अमलीजामा पहनाने के लिए प्रशासन और स्वयंसेवी संगठनों के साथ-साथ आम नागरिकों के सहयोग की भी जरूरत है। उन्होंने कहा कि शहर के साइकिल प्रेमियों ने करीब 18 हजार की ऊंचाई तक साइकिल यात्रा कर इन सरोकारों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की है। गुप्ता ने कहा कि हिमाचल और लद्दाख के पहाड़ों से होते हुए खारदुंगला तक जाना आसान कार्य नहीं था। इस मिशन में दल के सदस्यों ने स्वास्थ्य संबंधी चुनौतियों का भी सामना किया है।

 

मिशन का नेतृत्व कर रही पर्वतारोही पंचकूला की एसीपी ममता सौदा ने विस अध्यक्ष को बताया कि रास्ता काफी दुर्गम था और ऊंचाई पर जाने के लिए ऑक्सीजन की कमी हो गई थी। कई साथियों की नाक से खून आने लगा था, लेकिन क्योंकि सभी में देशभक्ति का जज्बा सिर चढ़कर बोल रहा था, इसलिए वे हर कठिनाई का मुकाबला कर पाए। इस दल में 4 वकील जोगेंद्र धनखड़, सिद्धार्थ राणा, मनवीर राठी, अभिषेक शर्मा, 2 कॉलेज छात्राएं विभा राठी व दीया राठी, एक किसान राजेश राणा व 2 कारोबारी राजीव कुमार और अनिकेत चौधरी शामिल रहे।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!