नशे के खिलाफ पंचकूला पुलिस की मुहिम, 2 महीने में 23 आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

Edited By Vivek Rai, Updated: 27 Jun, 2022 08:58 PM

panchkula police s campaign against drug addiction 23 arrested in 2 months

पुलिस ने मई में 16 मामले दर्ज कर 23 अभियुक्त तथा जून में 13 मामले दर्ज करके 16 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए कुल 39 अभियुक्तों से भारी मात्रा में नशीला पदार्थ बरामद किया गया है।

चंडीगढ़(धरणी): पंचकूला पुलिस उपायुक्त सुरेन्द्र पाल सिंह के निर्देशानुसार पंचकूला शहर को ड्रग फ्री बनाने हेतु, नशे से छुटकारा व नशे की रोकथाम हेतु पुलिस द्वारा अन्य कई विभागों के साथ मिलकर स्कूल, कॉलेज, कॉलोनी, मार्किट तथा अन्य शिक्षण संस्थानों पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसके अलावा पुलिस द्वारा नशीले पदार्थो की खरीद फरोख्त करने वालों व्यक्तियों के खिलाफ कडा प्रहार भी किया जा रहा है। इसके लिए पुलिस ने नशीले पदार्थों की अवैध बिक्री करने वालों के खिलाफ अलग-अलग यूनिट में मिलकर विशेष अभियान की शुरुआत की गई है इस अभियान में पुलिस ने मई में 16 मामले दर्ज कर 23 अभियुक्त तथा जून में 13 मामले दर्ज करके 16 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए कुल 39 अभियुक्तों से भारी मात्रा में नशीला पदार्थ बरामद किया गया है। इसमें 13 किलो 787 अफीम, 12 किलो 979 ग्राम चरस, 07 किलो 970 ग्राम चूरा पोस्त, 652 ग्राम चरस तथा 135.41 ग्राम हैरोइन शामिल है।

इस वर्ष नशे के मामले में 99 लोग हुए गिरफ्तार

पुलिस उपायुक्त ने कहा कि नशीले पदार्थ की सप्लाई करने वालों की चेन को तोड़ने के लिए पुलिस द्वारा विशेष टीम तैयार की गई है। जिस टीम के तहत नशीला पदार्थों के मुख्य तस्करों  को गिरफ्तार किया जाएगा। इसके अलावा पुलिस ने पहले भी दिल्ली से एक नायजेरियन आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा पुलिस उपायुक्त ने बताया कि इस वर्ष नशीले पदार्थों की तस्करी करने वालों के खिलाफ 68 मामले दर्ज कर कुल 99 अभियुक्तों को नशीले पदार्थों सहित गिरफ्तार किया गया ।

नशे के कारण हंसते-खेलते परिवार हो जाते हैं तबाह

उन्होंने कहा कि नशे के कारण लाखों हंसते खेलते परिवार तबाह हो गए हैं। नशे के सेवन से व्यक्ति शारीरिक, मानसिक व आर्थिक रूप से कमजोर हो जाता है। नशा पाप की जड़ है, जिससे परिवार बर्बाद हो जाते हैं। नशा करने वाला व्यक्ति परिवार के लिए बोझ बन जाता है, जिससे वह नशे के कारण अपराध की ओर अग्रसर हो जाता है। इस कारण वह खुद भी और अपने परिवार को भी तबाह कर बैठता है। इस संबध में आमजन से निवेदन है कि वे अगर किसी भी व्यक्ति को नशे का प्रयोग करता हुआ देखें तो उसको सही राह दिखाएं या नजदीक स्वास्थय केन्द्र नशा मुक्त केन्द्र में उसका इलाज करवाएं। इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति नशीले पदार्थों का सेवन करता है या खरीद फरोख्त करता है, तो उसकी सूचना पुलिस को दें। सूचना देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!