पंचकूला में होगी एमबीबीएस की पढ़ाई, मेडिकल कॉलेज की साइट तय

Edited By Vivek Rai, Updated: 13 May, 2022 09:13 PM

mbbs will be studied in panchkula the site of medical college will be decided

पंचकूला में मेडिकल कॉलेज बनने का रास्ता साफ हो गया है। इसके लिए हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने घग्गर नदी से सटे सेक्टर 32 में 30.51 एकड़ भूमि चिह्नित कर चिकित्सा शिक्षा विभाग को प्रस्ताव भेज दिया है। विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने शुक्रवार...

चंडीगढ़(धरणी) : पंचकूला में मेडिकल कॉलेज बनने का रास्ता साफ हो गया है। इसके लिए हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने घग्गर नदी से सटे सेक्टर 32 में 30.51 एकड़ भूमि चिह्नित कर चिकित्सा शिक्षा विभाग को प्रस्ताव भेज दिया है। विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिवों के साथ विशेष बैठक कर परियोजना पर प्रगति रिपोर्ट ली। दोनों अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश सरकार इस पंचकूला में मेडिकल कॉलेज के निर्माण को पूरी गंभीर है और वे अगले साल से यहां एमबीबीएस की कक्षाएं शुरू करने की तैयारी में हैं। पंचकूला के सेक्टर 6 स्थित सिविल अस्पताल को नए मेडिकल कॉलेज के साथ जोड़ा जाएगा।

गौरतलब है कि गत 10 अप्रैल को पंचकूला में आयोजित जन विकास महारैली में विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता की मांग पर मुख्य मंत्री मनोहर लाल ने शहर में मेडिकल कॉलेज बनाने की घोषणा की थी। उसके बाद से ही विस अध्यक्ष इस परियोजना को सिरे चढ़ाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। इससे पूर्व वे हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को मेडिकल कॉलेज के लिए भूमि चिह्नित करने के निर्देश दे चुके हैं।

शुक्रवार को उन्होंने कार्य में तेजी लाने के लिए विधान सभा सचिवालय में स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा और चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव जी. अनुपमा के साथ बैठक की। इन अधिकारियों ने विस अध्यक्ष को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण द्वारा पंचकूला के सेक्टर 32 में चिह्नित की गई 30.51 एकड़ भूमि का नक्शा दिखाया। यह भूमि माजरी चौक से यमुनानगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाते वक्त घग्गर पुल पार कर बाई ओर मुख्य सड़क से करीब एक किलोमीटर की दूरी पर है।

बता दें कि इससे पूर्व माता मनसा देवी मंदिर के समीप भी मेडिकल कॉलेज बनाने की चर्चा चली थी, लेकिन सेक्टर 32 की साइट इसके लिए ज्यादा उपयुक्त है। 2 बड़े राष्ट्रीय राजमार्ग के बीच में होने के कारण यहां सड़क मार्ग के पहुंच काफी आसान है। शहर की भीड़भाड़ से दूर होने के कारण भी इसे मेडिकल कॉलेज के लिए उपयुक्त साइट माना जाता है।

विस अध्यक्ष ने कहा कि मेडिकल कॉलेज पंचकूला की बड़ी महात्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है। इसके बनने से पूरे क्षेत्र में विकास की नई बयार चलेगी। इससे जहां लोगों को उच्च स्तर की चिकित्सीय सेवा उपलब्ध होंगी, वहीं चंडीगढ़ पीजीआई और जीएससीएच का बोझ भी हल्का होगा।

 

 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Gujarat Titans

Rajasthan Royals

Teams will be announced at the toss

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!