बड़ेसरा हत्याकांड में बेखौफ शार्प शूटर गिरफ्तार, अब तक दोनों पक्षों के 6 लोगों की हो चुकी है मौत

Edited By Manisha rana, Updated: 24 Nov, 2022 09:30 AM

fearless sharp shooter arrested in badesara murder case

भिवानी जिले के बड़ेसरा गांव में सरपंच चुनाव की रंजिश को लेकर 16 नवंबर को दनादन गोलियां दागकर महेन्द्र के हत्यारे शार्प शूटर मनोज उर्फ़ गंजू को सीआईए-टू ...

भिवानी (अशोक भारद्वाज) : भिवानी जिले के बड़ेसरा गांव में सरपंच चुनाव की रंजिश को लेकर 16 नवंबर को दनादन गोलियां दागकर महेन्द्र के हत्यारे शार्प शूटर मनोज उर्फ़ गंजू को सीआईए-टू पुलिस ने गिरफ्तार तक लिया  है। इस खूनी संघर्ष में अब तक छह लोगों की हत्या हो चुकी है। 
 

2017 से शुरु हुआ ये खूनी संघर्ष

बता दें कि बडेसरा गांव में ये खूनी संघर्ष साल 2017 में  शुरू हुआ था, तत्कालीन सरपंच सुदेश की 10वीं कक्षा की मार्कशीट आरटीआई के तहत फर्जी मिली थी। जिसके बाद सरपंच सुदेश व उसके पति बबलू की जेल हो गई। इसके बाद आरटीआई लगाने वाले बलजीत व बब्लू गुट में खूनी संघर्ष शुरू हो गया। शुरूआत में बलजीत समेत उसके गुट के एक-एक कर चार साल में पाँच लोगों को मौत के घाट उतारा गया। 2017 में बलजीत, उसके चाचा भले व ताऊ महेन्द्र की हत्या की। उसके बाद बलजीत गुट के ही पूर्व सरपंच पवन को साल 2019 में गोली मारकर मौत के घाट उतारा। साल 2020 में बलजीत के ताऊ की घर के बाहर गोली मार कर हत्या की। अब बलजीत गुट ने 16 नवंबर को बबलू गुट के महेन्द्र व अजीत को निशाना बनाया, जिसमें महेन्द्र की मौत हो चुकी है और अजीत उपचाराधीन है। अब तक दोनों गुटों के छह लोगों की मौत हो चुकी है। 

सब इंस्पेक्टर सुमीत ने बताया कि 16 नवंबर को बड़ेसरा में बाइक सवार शूटर मनोज उर्फ गंजू ने सिलक व एक अन्य शूटर ने महेन्द्र व अजीत को गोलियां मारी थी। जिसमें महेन्द्र की मौत हो गई और अजीत गंभीर रूप से घायल हो गया था। उन्होंने बताया कि महेन्द्र को तीन और अशोक को 8 गोलियां लगी थी। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

 

Related Story

Trending Topics

Bangladesh

India

Match will be start at 10 Dec,2022 01:00 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!