बिजली निगम ने फरीदाबाद सर्किल में की छापेमारी, पकड़ी गई 1.37 करोड़ की बिजली चोरी

Edited By Manisha rana, Updated: 27 Oct, 2021 08:13 AM

electricity corporation raided faridabad circle

औद्योगिक शहर में दीपावली से ठीक पहले दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम की 28 टीमों ने फरीदाबाद सर्किल की चार डिविजनों...

फरीदाबाद : औद्योगिक शहर में दीपावली से ठीक पहले दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम की 28 टीमों ने फरीदाबाद सर्किल की चार डिविजनों (बल्लभगढ़, एनआईटी, ओल्ड और फरीदाबाद ग्रामीण) में छापेमारी कर दो दिनों तक बिजली चोरी पकडऩे के लिए चलाए गए सर्च अभियान में 1 करोड़ 37 लाख की बिजली चोरी पकड़ी है। पहले दिन 1 करोड़ 2 लाख और दूसरे दिन साढ़े 34 लाख की बिजली चोरी पकड़ी जाने से बिजली चोरों में हड़कंप मचा हुआ है। 

बिजली विभाग के अधीक्षण अभियंता नरेश कक्कड़ ने बताया कि फरीदाबाद सर्किल में घरेलू, व्यवसायिक और औद्योगिक इकाईयों से पकड़ी गई कुल बिजली चोरी 539.825 किलोवाट है। बिजली चोरों ने बिजली निगम को 1 करोड़ 37 लाख की चपत लगाई है। जब दो दिनों में यह आंकड़ा इतना बड़ा हो सकता है। तो समझिए बिजली चोर पूरे फरीदाबाद सर्किल में बिजली वितरण निगम को कितने करोड़ों के राजस्व की चपत लगाते होंगे। 

फरीदाबाद सर्किल में घरेलू बिजली चोर अधिक 
विभागीय आंकड़ों की माने तो जिले में घरेलू बिजली की अधिक चोरी हो रही है। यह लोग कुंडी कनेक्शन और मीटरों में छेड़छाड़ कर बिजली चोरी करते हैं। इन दो दिनों में घरेलू उपभोक्ताओं ने सर्वाधिक 92.17 लाख की बिजली चोरी की है। बिजली चोरी का यह आंकड़ा किलोवाट में 400.571 है। वहीं दूसरे नम्बर पर व्यवसायिक उपभोक्ताओं ने निगम की बिजली चोरी की है। जिसमें दो दिनों में 34.40 लाख रुपए की बिजली चोरी की है, यह आंकड़ा 105 किलोवाट बिजली चोरी का रहा है। तीसरे नम्बर पर औद्योगिक इकाईयों में बिजली चोरी पकड़ी गई है। जिसमें 10.05 लाख रुपए और 34.255 किलोवाट बिजली चोरी की है, जो सबसे कम है। 

गांवों में हुई सर्वाधिक 45.07 लाख की बिजली चोरी
फरीदाबाद सर्किल में बिजली चोरी की बात करें तो ग्रामीण क्षेत्र में उपभोक्ताओं द्वारा सर्वाधिक बिजली चोरी की गई है। यह आंकड़ा 45.07 लाख का है। वहीं 198.5 किलोवाट लोड गांव में की गई बिजली चोरी में पकड़ा गया है। वहीं दूसरे नम्बर पर ओल्ड फरीदाबाद डिविजन में 44.22 लाख की बिजली चोरी पकड़ी है। जिसमें कुल 155.5 किलोवाट लोड पकड़ा गया है। तीसरे नम्बर पर बल्लभगढ़ डिविजन रहा है। जहां बिजली चोरों ने निगम को 35.65 लाख की चपत लगाई है। वहीं 146 किलोवाट बिजली लोड पकड़ा गया है। सबसे कम शिक्षित क्षेत्र एनआईटी डिविजन रहा है जहां बिजली चोरों ने 11.68 लाख रुपए की बिजली चोरी की है और 39.825 किलोवाट बिजली लोड पकड़ा है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!