अनिल विज तुरंत जनता दरबार शुरू करें, क्योंकि लोग उनपर भरोसा कर अपनी पीड़ा बताते हैं: हरकेश शर्मा

Edited By Isha, Updated: 21 May, 2023 12:28 PM

anil vij should immediately start janata darbar

हरियाणा प्रदेश शिव सेना के प्रांतीय अध्यक्ष हरकेश शर्मा ने कहा है कि हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को जन प्रतिनिधि होने व हरियाणा सरकार के केबिनेट मंत्री होने के नाते जनता दरबार

चंडीगढ़( चन्द्र शेखर धरणी): हरियाणा प्रदेश शिव सेना के प्रांतीय अध्यक्ष हरकेश शर्मा ने कहा है कि हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को जन प्रतिनिधि होने व हरियाणा सरकार के केबिनेट मंत्री होने के नाते जनता दरबार बंद नही करना चाहिए।हरकेश ने कहा कि प्रशाशनिक व्यवस्थायों के खिलाफ लोगों के दुखड़े केवल अनिल विज के दरबार मे ही सुने जाते हैं।अनिल विज तुरंत जनता जनता दरबार शुरू करें क्योंकि लोग उनपर भरोसा कर अपनी पीड़ा बताते हैं।

 हरकेश शर्मा ने कहा कि हरियाणा गठन के बाद गृह मंत्री अनिल विज एक मात्र ऐसे सत्तासीन नेता हैं जिनके पास समस्त हरियाणा से जनता सर्वाधिक भरोसा कर जनता दरबार मे पहुंचती है।हरकेश ने कहा कि कहा कि हरियाणा में खुले दरबार या जनता दरबार हरियाणा गठन के बाद से ही सत्ता सीन लोग लगते रहें है।एक मात्र विज का जनता दरबार ऐसा है जिसमे जनता बिना बुलाए केवल भरोसे पर पहुंचती है।विज के जनता दरबारों के मध्य रात्रि तक चलने व पूरे हरियाणा से भीड़ पहुंचने से पता लगता है कि 80% से अधिक लोगों के काम होते हैं तभी लोगों का विश्वाश उनपर बना हुआ है।उन्होंने कहा कि विज के पास दरबार मे महिलाएं,बजुर्ग,पुरुष व पुलिस प्रशाशन के सताए हर वर्ग के लोग हरियाणा के हर कोने से पहुंचते है।

शर्मा ने कहा कि सभी जिलाधीशों व पुलिस अधीक्षकों द्वारा वर्किंग डे पर 1 या 2 घण्टे प्रतिदिन जनता के लिए समय रखने के प्रावधान कई दशकों से हैं।मगर इस दौरान अधिकांश अधिकारियों द्वारा इसे प्रेक्टिकल रूप से नही अपनाया जाता।केवल उनके कार्यलयों के बाहिर सूचना पटों पर लटकी यह सूचनाएं ही ज्यादातर औपचारिकता वश टँगी नजर आती है।शर्मा ने कहा कि अनिल विज ने केवल अम्बाला की जनता के लिए जनता दरबार का दिन निर्धारित किया था।मगर अनिल विज की जन हितेषी वर्किंग के कारण अनिल विज के घर,दफ्तर जब लंबी लाइने लगने लगी तो उन्होंने हरियाणा की जनता के लिए भी अलग दिन फिक्स कर दिया।विज पर जब जनता बेहद भरोसा करती है तो उन्हें हरियाणा की जनता के लिए लगने वाला जनता दरबार बंद नही करना चाहिए था।
 
 शर्मा ने कहा कि हरियाणा गठन के बाद अनिल विज बतौर मंत्री एक मात्र ऐसे व्यक्ति हैं जिनको व्यक्तिगत रूप से या मेल पर दी शिकायतें जहां रजिस्टर्ड की जाती हैं वही अधिकारियों की जवाबदेही भी तय रहती है।शिकायतों पर उचित कार्यवाही न करने पर अधिकारियों की खिंचाई भी होती है।हरकेश शर्मा ने कहा है कि जनता-दरबार मे भी लोगों की पीड़ा सुन व फेस रीडिंग के अनुभव के आधार पर जिस प्रकार कड़े निर्णय लेते है। जनता ऐसे कदमों को पसंद करती है।अनिल विज को जब जनता ने जन हित मे कार्य करने की ताकत भगवान ने गृह व स्वास्थ्य मंत्री के रूप में दी है,तो उन्हें जनता दरबार बंद कदापि नही करने चाहिए।

 शर्मा ने कहा कि जो अनिल विज कॅरोना काल के दो बुरे दौर के दौरान हरियाणा सचिवालय लगातार आवागमन कर कॅरोना के खिलाफ चल रही तैयारियों की समीक्षा करते रहे व फ्रंट फुट पर रह कर यह लड़ाई लड़ी।खुद भी मौत के मुंह से जनता की दुआओं की बदौलत बच कर आए, मगर विज ने फिर भी अपना गृह, स्वास्थ्य मंत्री के रूप में धर्म निभाना नही छोड़ा।अब भी विज को जनता के लिए धर्म निभाते हुए तुरंत जनता दरबार शुरू करने चाहिए।उन्होंने कहा कि विज द्वारा दरबार न लगाएं जाने के कारण अब भी जनता कौन सी रुक गई है।उनके कार्यालय व घर पर लगने वाली प्रतिदिन की भारी भीड़ को भी उनको अटैंड करना ही पड़ता है।

 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!