अग्निपथ योजना देश एवं युवाओं के भविष्य के लिए बेहद खतरनाक - बलराज कुंडू

Edited By Vivek Rai, Updated: 16 Jun, 2022 09:47 PM

agneepath scheme dangerou for the future of country kundu

केंद्र सरकार की सेना में 4 साल की भर्ती की अग्निपथ योजना को लेकर देश भर में विरोध के स्वर उठने लगे हैं। युवा सड़कों पर आकर अपना विरोध दर्ज करवा रहे हैं। इसी बीच जनसेवक मंच के संयोजक एवं महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू ने भी इस योजना का विरोध करते...

चंडीगढ़(धरणी): केंद्र सरकार की सेना में 4 साल की भर्ती की अग्निपथ योजना को लेकर देश भर में विरोध के स्वर उठने लगे हैं। युवा सड़कों पर आकर अपना विरोध दर्ज करवा रहे हैं। इसी बीच जनसेवक मंच के संयोजक एवं महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू ने भी इस योजना का विरोध करते हुए इसे देश के लिए खतरनाक योजना करार दिया है। कुंडू ने यहां जारी ब्यान में इस योजना को देश एवं युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ करने वाली अग्निपथ योजना करार दिया और कहा कि माननीय प्रधानमंत्री जी और रक्षा मंत्री तथा गृह मंत्री को इस योजना को तुरन्त वापस लेना चाहिए।

बलराज कुंडू ने कहा कि उन्हें तो ये ही समझ नहीं आ रहा है कि सिर्फ 4 साल के लिये युवाओं को अग्निपथ योजना के तहत फौज में भर्ती करके सरकार आखिर किसका भला करना चाहती है जबकि सेना में एक सिपाही को तैयार करने में अमूमन 7 साल का वक्त लगता है। सिर्फ 4 साल के लिये युवाओं को फौज में भर्ती करके सरकार देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने जा रही है। तमाम रक्षा विशेषज्ञ सरकार के इस कदम का विरोध कर रहे हैं और देश भर में युवा आंदोलन छेड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब 4 साल फौज में रहकर ये नौजवान दौबारा से बेरोजगार हो जाएंगे और उन्हें कोई रास्ता नजर नहीं आएगा तो देश के लाखों नौजवान आखिर क्या करेंगे ? क्या वे रास्ता भटक कर देश के लिए आग के गोले साबित नहीं होंगे ?

बलराज कुंडू ने कहा कि केंद्र को तुरन्त अग्निपथ योजना को बंद कर सेना में युवाओं के लिये बन्द पड़े स्थाई  भर्ती के रास्तों को खोलना चाहिए ताकि कई-कई सालों से तैयारियां कर रहे युवाओं का फौजी बनकर देश सेवा का सपना पूरा हो सके।

बलराज कुंडू ने कहा कि अग्निपथ की घोषणा के बाद से ही बिहार से लेकर राजस्थान, हरियाणा सहित अनेक जगहों पर युवा आंदोलन पर आ गए हैं ऐसे में सरकार को तुरन्त यह फैंसला वापस ले लेना चाहिए क्योंकि इससे युवा वर्ग में निराशा फैल रही है जिसके चलते हमारे नौजवान आत्महत्या जैसे कठोर कदम उठाने लगे हैं। उन्होंने आज ही लिजवाना कलां गांव के रहने वाले सचिन एवं पिछले दिनों भिवानी के तालू गांव के पवन द्वारा आत्महत्या करने को बेहद दुःखदायी घटना बताते हुए कहा कि सरकार को सोचना चाहिए कि हमारे काबिल नौजवान भर्तियां न निकलने से निराशा में डूबकर खुद को ही खत्म करते जा रहे हैं।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!