अब अंसल एसेंसिया के खिलाफ पुलिस में शिकायत

Edited By Pawan Kumar Sethi, Updated: 26 Jun, 2022 09:03 PM

residents file complaint against ansal in gurgaon

रविवार को अंसल एसेंसिया हाउसिंग प्रोजेक्ट के सैकड़ों निवासियों ने रियल्टी फर्म अंसल एपीआई के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। जिसमें संपत्ति के मालिकों से किए गए वादे को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया गया है।

गुड़गांव, (ब्यूरो): रविवार को अंसल एसेंसिया हाउसिंग प्रोजेक्ट के सैकड़ों निवासियों ने रियल्टी फर्म अंसल एपीआई के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। जिसमें संपत्ति के मालिकों से किए गए वादे को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया गया है।

गुरुग्राम की खबरों के लिए इस लिंक https://www.facebook.com/KesariGurugram पर क्लिक करें।


एसेंसिया आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष धर्मेंद्र तंवर ने बताया अंसल एसेंसिया सेक्टर-67 ने गुरुग्राम के सेक्टर-65ए पुलिस स्टेशन में अंसल एपीआई के प्रवर्तको, निदेशकों व अधिकारियों, कर्मचारियों के खिलाफ  धोखाधड़ी व धन की हेराफेरी मामले को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। आरडब्ल्यूए ने आरोप लगाया है कि अंसल एपीआई ने प्रबंधन टीम के साथ मिलकर इस परियोजना के फंड को डायवर्ट किया है। घर खरीदारों के पैसे का दुरुपयोग कहीं और उनके व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए किया है। तंवर ने कहा हमें जो वादा किया गया था आज तक हमें वह मिला ही नही। आरोप है कि संपत्ति पूरी तरह से जर्जर है।

140 एकड़ में अंसल एपीआई
ज्ञात हो कि अंसल एपीआई एसेंसिया 140 एकड़ में फैला है। 2011 में शुरू की गई इस परियोजना की कुल 1,043 इकाइयां है। परियोजना का कब्जा 2014 में शुरू हुआ था। वर्तमान में समाज में 2,000 से अधिक परिवार रह रहे हैं।  इसके अलावाए 500 से अधिक परिवार अपने नए घरों में जाने का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन वे समाज में बुनियादी ढांचे की कमी के कारण ऐसा नहीं कर पा रहे हैं। कई घर खरीदार हैं जो अपनी खरीदी गई संपत्तियों के हस्तांतरण विलेख प्राप्त करने की प्रतीक्षा कर रहे हैंए लेकिन डेवलपर को संपत्ति की पूरी राशि का भुगतान करने के बाद भी ऐसा नहीं कर पाए हैं। आरडब्ल्यूए ने कहा कि बुनियादी ढांचे की कमी के कारण निवासी भी पीडि़त हैं।

सुविधाओं का अभाव
सोसायटी में 33 किलोवाट सब स्टेशन नहीं है। जिससे बीते एक साल से सोसायटी में खरीदे गए किसी भी नए प्लॉट, लोर, लैट के लिए सोसायटी में नए बिजली कनेक्शन स्वीकृत नहीं हो रहे हैं। सोसायटी में उचित एसटीपीए पानी की टंकी, ड्रेनेज व सीवर सिस्टम की कमी है। जिससे हर साल बरसात के मौसम में सड़कों पर जाम लग जाता है और ओवर लो हो जाता है। ग्रीन बेल्ट और सामान्य बुनियादी ढांचे का कोई रखरखाव नहीं है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!