BJP में शामिल होने से पहले कुलदीप बिश्नोई का ट्वीट, बोले- नए राजनीतिक सफर की है शुरुआत

Edited By Gourav Chouhan, Updated: 02 Aug, 2022 10:20 PM

kuldeep bishnoi s tweet before joining bjp new political journey has started

एक ट्वीट के माध्यम से बात का ऐलान भी कर दिया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए यह बात साफ कर दी कि वे बुधवार को अपने पद से इस्तीफा देने के बाद अपने ट्वीट में बताए गए दिन पर भाजपा में शामिल हो जाएंगे।

हिसार(विनोद): जिले की आदमपुर विधानसभा से कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नोई द्वारा विधायक पद से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल होने की बात वैसे तो लगभग तय मानी जा रही थी। बिश्नोई ने खुद बिना कुछ कहे एक ट्वीट में तारीख और समय का जिक्र करते हुए भाजपा में शामिल होने की आशंकाओं को हवा देने का काम किया था। लेकिन अब उन्होंने एक ट्वीट के माध्यम से बात का ऐलान भी कर दिया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए यह बात साफ कर दी कि वे बुधवार को अपने पद से इस्तीफा देने के बाद अपने ट्वीट में बताए गए दिन पर भाजपा में शामिल हो जाएंगे।

 

कुलदीप बिश्नोई ने आदमपुर की जनता को दिया संदेश

PunjabKesari

 

कांग्रेस से बागी होकर राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने वाले कुलदीप बिश्नोई ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, एक नए राजनीतिक सफर से पहले आज अपनों के बीच पहुंच कर विस्तार से चर्चा की और हमेशा की तरह भरपूर प्यार व समर्थन मिला, जिसके लिए मैं सदैव आदमपुर की जनता का आभारी रहूंगा। कभी भी आदमपुर के मान-सम्मान को कम नहीं होने दूंगा।

 

PunjabKesari

 

पिता भजनलाल की समाधि पर माथा टेकने के बाद कार्यकर्ताओँ से मिले बिश्नोई

 

मंगलवार की शाम कुलदीप बिश्नोई अपनी धर्मपत्नी रेणुका बिश्नोई के साथ अपने पिता व हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल की समाधि पर माथा टेकने पहुंचे। इसके बाद उन्होंने आदमपुर नें अपने कार्यकर्ताओं और चाहने वालों से बात की। इस दौरान सैंकड़ों की संख्या में लोग बिश्नोई को सुनने पहुंचे।

PunjabKesari

बिश्नोई शुरू से ही इस बात पर जोर दे रहे थे कि वे अपने कार्यकर्ताओं से सलाह करने के बाद ही अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर फैसला लेंगे। बुधवार को कुलदीप बिश्नोई विधानसभा अध्यक्ष से मुलाकात कर विधायक पद से इस्तीफा सौंपेंगे। अगले दिन 4 अगस्त को सुबह 10 बजकर 10 मिनट पर बिश्नोई भाजपा का दामन थाम लेंगे। उन्होंने खुद एक ट्वीट के माध्यम से बीजेपी में शामिल होने के लिए दिन व समय की ओर इशारा भी किया है।

 

कांग्रेस का दामन छोड़ पहले भी भाजपा के साथ चुनाव लड़ चुके हैं बिश्नोई
 

गौरतलब है कि 2005 के हरियाणा विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की शानदार जीत के बाद भूपिंदर सिंह हुड्डा को मुख्यमंत्री बनाए जाने से नाराज होकर कुलदीप बिश्नोई और उनके पिता भजन लाल ने 2007 में हरियाणा जनहित कांग्रेस (एचजेसी) नामक नयी पार्टी का गठन किया था। एचजेसी ने बाद में भाजपा और दो अन्य दलों के साथ गठजोड़ किया था, जिन्होंने संयुक्त रूप से हरियाणा में 2014 का लोकसभा चुनाव लड़ा था। लेकिन विधानसभा चुनाव से पहले यह गठबंधन टूट गया था। इसके छह साल बाद कुलदीप बिश्नोई ने अपनी एचजेसी पार्टी का विलय कांग्रेस में कर दिया था। कांग्रेस में लौटने के बावजूद बिश्नोई और हुड्डा के बीच संबंध कभी बेहतर नहीं रहे।

 

 (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 

 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!