केजरीवाल-ममता आएंगे और चले जाएंगे, सरकार केवल बीजेपी बनाएगी- रणजीत चौटाला

Edited By Vivek Rai, Updated: 13 May, 2022 07:41 PM

kejriwal mamata will come and go only bjp will win ranjit chautala

प्रदेश के बिजली मंत्री रणजीत चौटाला ने भी आप की रैली को लेकर तंज कसा है। उन्होंने कहो कि लोकतंत्र में सभी को अपना बात कहने और रैली करने का अधिकार है। फिर चाहे वह केजरीवाल हो, हुड्डा हो, या फिर चाहे ममता बनर्जी हो, यें सब रैली करेंगे और चले जाएंगे।...

चंडीगढ़(धरणी): कुरुक्षेत्र में 29 मई को होने वाली आम आदमी पार्टी की रैली को लेकर विपक्षी पार्टियां लगातार हमलावन हैं। प्रदेश के बिजली मंत्री रणजीत चौटाला ने भी आप की रैली को लेकर तंज कसा है। उन्होंने कहो कि लोकतंत्र में सभी को अपना बात कहने और रैली करने का अधिकार है। फिर चाहे वह केजरीवाल हो, हुड्डा हो, या फिर चाहे ममता बनर्जी हो, यें सब रैली करेंगे और चले जाएंगे। मेरे हिसाब से हरियाणा में भाजपा के अलावा किसी अन्य दल का कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मुझे अलग नहीं मानते और मैं भी मुख्यमंत्री को अलग नहीं मानता। बेशक मैं एक निर्दलीय विधायक हूं। लेकिन मेरे क्षेत्र में होने वाली रैली एक जबरदस्त रैली होगी और मैं इसमें पूरा जोर लगाउंगा। यह रैली अभी तक के सभी रिकॉर्ड तोड़ने वाली रैली साबित होगी। उन्होंने कहा कि लगातार निर्दलीय विधायकों की बैठकों में केवल एक ही बात होती है कि हम चट्टान की तरह मुख्यमंत्री और भाजपा के साथ खड़े हुए हैं। 5 साल पूरे होने तक भी हम खड़े रहेंगे और आगे भी हम भाजपा का ही साथ देंगे। रणजीत चौटाला ने सभी निर्दलीय विधायकों को अपना छोटा भाई बताते हुए कहा कि मैं सभी का बहुत सम्मान करता हूं और उनके द्वारा कहे गए किसी भी काम को 1 मिनट से पहले करता हूं। ना केवल उनका बल्कि गठबंधन में शामिल सभी लोगों का कार्य मैं करता हूं और मेरा कहा हुआ काम भी बहुत जल्दी होता है।

ओम प्रकाश चौटाला मेरे भाई, लेकिन जनता की पसंद केवल बीजेपी- बिजली मंत्री

 इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला द्वारा लोगों के बीच जाकर प्रचार प्रसार करना पर बिजली मंत्री ने कहा कि वह मेरे बड़े भाई हैं और हमेशा अपना प्रचार करते हैं। लोग उनसे प्यार करते हैं और उनकी बात सुनते हैं। लेकिन लोकतंत्र में उनकी बात को मानना या ना मानना लोगों का ही अधिकार है। चौधरी ओम प्रकाश चौटाला तीन बार प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वह लोगों में जा रहे हैं। लेकिन मेरा मानना है कि भाजपा के बिना हरियाणा में किसी का कोई मामला नहीं है। केजरीवाल भले ही हरियाणा में धरातल तलाश रहा हो लेकिन फैसला जनता को करना है और जनता भाजपा के साथ है। वर्तमान में बीजेपी के कुल 40 विधायक हैं। अगले चुनाव में भाजपा बहुमत के आंकड़े को पार करते हुए 55-60 से भी अधिक सीटों पर जीत हासिल करेगी। जिस प्रकार पंजाब में केजरीवाल की पार्टी ने 92 सीटें जीती इसी तरह हरियाणा में भाजपा प्रचंड बहुमत जीत सकती है।

पीक सीजन में भी नहीं आएगी बिजली की समस्या - रणजीत चौटाला

बिजली मंत्री ने कहा कि अप्रैल माह में पिछले 15 साल का गर्मी का रिकॉर्ड टूटा। इस कारण प्रदेश में बिजली की कमी को लेकर हमाने सामने एक बड़ा चैलेंज आया। लेकिन 1 मई से इंडस्ट्री, रूरल एरिया, डोमेस्टिक और एग्रीकल्चर एरिया को प्रयाप्त बिजली की सप्लाई दी जा रही है। आज प्रदेश में एक  मिनट के लिए भी बिजली का कट नहीं लगता। अडानी से हमें बिजली मिलने लगी है। चाइना से आने वाला रूटर 2 दिन में डिस्पैच हो जाएगा। आज प्रदेश में बिजली की कोई समस्या नहीं है। 15 जून से 20 जुलाई तक पीक सीजन के दौरान जब पूरे प्रदेश में धान की खेती के लिए ट्यूबवैल चलते हैं, तब हमारे पास अधिकतम लागत 12000 से 13000 मेगावाट बिजली की होती है। उस समय केरल, आंध्रप्रदेश, उड़ीसा, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में मानसून की शुरुआत हो चुकी होती है और बाजार में हमें लगभग 4 से साढ़े 4 रुपए प्रति यूनिट का हिसाब से बिजली मिलने लगती है। हमारे पास  8500 मेगावाट बिजली उपलब्ध है। जबकि लागत केवल 8200- 8300 मेगावाट बिजली है।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Gujarat Titans

Rajasthan Royals

Teams will be announced at the toss

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!