शंभू बॉर्डर पर हरियाणा पुलिस की मॉक ड्रिल, आंसू गैस के छोड़े गोले, लोगों में मची भगदड़

Edited By Manisha rana, Updated: 12 Feb, 2024 04:45 PM

tear gas shells fired at shambhu border stampede among people

13 फरवरी की तारीख सबके जेहन में है, क्योंकि इस दिन किसानों ने दिल्ली में कूच करने का ऐलान किया है। किसानों के इस ट्रैक्टर परेड को लेकर पुलिस प्रशासन भी अलर्ट मोड पर है। वहीं, शंभू बॉर्डर पर हरियाणा पुलिस ने मॉक ड्रिल की, जहां पंजाब की तरफ आंसू गैस...

अंबाला (अमन कपूर): 13 फरवरी की तारीख सबके जेहन में है, क्योंकि इस दिन किसानों ने दिल्ली में कूच करने का ऐलान किया है। किसानों के इस ट्रैक्टर परेड को लेकर पुलिस प्रशासन भी अलर्ट मोड पर है। वहीं, शंभू बॉर्डर पर हरियाणा पुलिस ने मॉक ड्रिल की, जहां पंजाब की तरफ आंसू गैस के गोले छोड़े गए। पुलिस की कार्रवाई से लोगों में भगदड़ मच गई। हालांकि पुलिस ने लोगों को पहले से ही चेतावनी दी थी। इससे ये कहा जा सकता है कि पुलिस किसानों के इस कूच रोकने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

बता दें कि राजधानी दिल्ली और हरियाणा के टिकरी बॉर्डर पर पुलिस प्रशासन ने किसानों को रोकने के पुख्ता बंदोबस्त करने शुरू कर दिए हैं। टिकरी बॉर्डर के साथ लगते मेट्रो रेल के पिलरों पर सीसीटीवी कैमरे लगा दिए गए हैं। टिकरी बॉर्डर पर 5 लेयर की सुरक्षा व्यवस्था की गई है। साथ ही किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पैरामिलिट्री और पुलिस बल तैनात किया गया है। इतना ही नहीं हाई क्वालिटी के कैमरे और साउंड सिस्टम भी लगाया गया है। पुलिस प्रशासन ने व्यवस्था प्रबंधन के लिए अपना टेंट लगा लिया है और दिल्ली से बहादुरगढ़ आने वाला रास्ता भी बैरिकेट्स के जरिए संकरा कर दिया गया है। देर शाम तक टिकरी बॉर्डर पर पैरामिलिट्री फोर्सेज की कंपनी भी तैनात हो सकती है। इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद करने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों की 20 कंपनियों की डिमांड सरकार से की है। 

किसानों ने 13 फरवरी के दिन 'दिल्ली चलो' का ऐलान किया है। जिसे देखते हुए देश की राजधानी दिल्ली पुलिस पूरी तरह से सक्रिय हो गई है। एक तरफ जहां दिल्ली आने जाने वाले रास्तों पर कटीली तारों से लैस बेरिकेड्स खड़े करने शुरू कर दिए हैं। तो वही सीमेंट और कंक्रीट के छोटे-बड़े बेरिकेड्स भी मंगवाए गए हैं। इसके साथ ही बड़े-बड़े लोहे के कंटेनर भी सड़क पर लाकर रख दिए हैं। यह पूरी कवायत किसानों को देश की राजधानी दिल्ली में इंटर करने से रोकने के लिए की जा रही है। राजधानी दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर एसीपी लेवल के 6 अधिकारी और करीब डेढ़ सौ से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात किए जा चुके हैं।

 

(हरियाणा की खबरें अब व्हाट्सऐप पर भी, बस यहां क्लिक करें और Punjab Kesari Haryana का ग्रुप ज्वाइन करें।) 
(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!