जमीन और गहने बेचकर मां-बाप ने बेटे को भेजा था विदेश...4 महीने से नहीं कोई खबर, एजेंट लापता

Edited By Manisha rana, Updated: 05 Oct, 2023 04:40 PM

panipat youth missing abroad

विदेशी डॉलर कमाने के चक्कर में जिस तेजी से मां बाप अपने बच्चों को जान और लाखों रुपये का जोखिम लेकर विदेशों में भेज रहे हैं, वहीं उसी तेजी से विदेश भेजने के नाम पर ठगी और धोखाधड़ी के मामले भी सामने आ रहे हैं। ताजा मामला पानीपत जिले के सिंहपूरा सिठाना...

पानीपत (सचिन) : विदेशी डॉलर कमाने के चक्कर में जिस तेजी से मां बाप अपने बच्चों को जान और लाखों रुपये का जोखिम लेकर विदेशों में भेज रहे हैं, वहीं उसी तेजी से विदेश भेजने के नाम पर ठगी और धोखाधड़ी के मामले भी सामने आ रहे हैं। ताजा मामला पानीपत जिले के सिंहपूरा सिठाना से सामने आया है जहां एक गरीब परिवार ने अपना जमीन का टुकड़ा और गहने बेचकर 14 लाख रुपये का इंतजाम करके 26 साल के राजकुमार को इटली के लिए तीन एजेंटों के माध्यम से भेजा था। परिवार ने एजेंटों के बहकावे में आकर बड़ी खुशी से अमृतसर से राजकुमार को फ़्लाईट में बैठाया था और बैठाते ही सपने देखने शुरू कर दिए थे कि उनका बेटा अब फटाफट विदेश में पहुंचते ही पैसे कमाएगा और वर्षों से गरीबी में रह रहे परिवार की गरीबी दूर करेगा, लेकिन किसे पता था राजकुमार के नसीब में कुछ और ही लिखा था। 


4 महीने से नहीं हुआ संपर्क 


परिवार की मानें तो राजकुमार को आज घर से निकले 4 महीने का वक्त बीत गया है, लेकिन राजकुमार की आज परिवार के पास कोई खोज खबर नहीं है। एजेंट 14 लाख वसूल कर फरार हैं और अब उनके नम्बर भी बंद आ रहे है। राजकुमार के भाई ने बताया कि एजेंटों ने कई दफा तो राजकुमार से बात करवाई, लेकिन अब सब एजेंट फरार है और उनके नंबर बंद आ रहे हैं। राजकुमार के भाई ने बताया कि एजेंट कोई और नहीं बल्कि दो एजेंट तो उनके रिश्तेदार ही है जो पैसे के लालच में रिश्तेदारी भी भूल गए और ये तक नहीं बता रहे उनका भाई आखिर कहां है। वह ज़िंदा भी है या नहीं। आरोपी धोखेबाज एजेंट मुनक के रहने वाले है जो आज उनके भाई को विदेश में फंसाकर खुद अपने परिवार को भी छोड़कर फरार हैं। 

एजेंट ने फंसाने के लिए दिखाए थे अनेकों सपने

राजकुमार के भाई ने बताया कि उनका भाई अमृतसर से दुबई के लिए बैठा था फिर एजिप्टी और फिर लीबिया पहुंचा है और लीबिया से उसे इटली पहुंचना था लेकिन उनका भाई लीबिया में ही फंसा है, क्योंकि उनकी राजकुमार से आखिरी बात लीबिया में हुई थी। उसके बाद कोई बातचीत नहीं हुई। भाई ने बताया कि एजेंट ने उन्हें फंसाने के लिए अनेकों सपने दिखाए थे। एजेंटों ने बताया था कि आपके भाई को एक नंबर में फ्लाइट के माध्यम से इटली में भेजेंगे दो साल का वर्क परमिट होगा और हर महीने 70 से 80 हजार रुपए इटली में कमाएगा। 

विदेशी धरती पर लापता राजकुमार के खोज में परिवार धक्के खा रहा है। कई बार परिवार पानीपत पुलिस के दरवाजे खटखटा चुका है लेकिन पुलिस प्रशासन को कोई मदद नहीं मिल पा रही है। भाई ने बताया कि आरोपी एजेंटों के खिलाफ पानीपत सदर थाने में शिकायत भी दे रखी है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। इसी कड़ी में और इसी आस में की पुलिस कोई रास्ता ढूंढकर उनकी कुछ मदद कर दें। पूरा परिवार आज एसपी पानीपत अजित सिंह शेखावत से मिलने पहुंचा था। हालांकि एसपी अजित सिंह शेखावत ने परिवार की मदद करने का आश्वासन दिया है।

आपको बता दें कि इन एजेंटों के माध्यम से एक साथ चार लोगों को इटली के नाम से भेजा था जिसमें दो लोग इटली सुरक्षित पहुंच चुके हैं तो वहीं राजकुमार समेत एक और युवक अभी रास्ते में ही फंसे हुए हैं। अब देखने वाली बात होगी कि क्या परिवार को पुलिस की कोई मदद मिल पाती है या राजकुमार का कोई सुराग मिल पाता है या एजेंट परिवार से राजकुमार की कोई बातचीत करवाने का काम करते हैं।
 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!