शहीद की बेटी पूजा सांगवान ने जिद से जीता जहां, राष्ट्रीय रोइंग चैंपियनशिप में जीते 2 Silver Medal(VIDEO)

Edited By Manisha rana, Updated: 06 Oct, 2022 05:07 PM

शहीद की बेटी पूजा सांगवान ने जिद से अपना सपना पूरा किया और राष्ट्रीय रोइंग चैंपियनशिप में दो सिल्वर मेडल जीते। ग्रामीणों ने मिठाइयां बांटकर खुशी जताई...

चरखी दादरी (पुनीत) : शहीद की बेटी पूजा सांगवान ने जिद से अपना सपना पूरा किया और राष्ट्रीय रोइंग चैंपियनशिप में दो सिल्वर मेडल जीते। ग्रामीणों ने मिठाइयां बांटकर खुशी जताई। बताया जा रहा है कि पूजा दो बार एशियन गेम्स में भारत की टीम का बतौर कप्तान नेतृत्व कर चुकी है। उसने अब तक राष्ट्रीय स्तर पर दो गोल्ड के साथ दस सिल्वर व दो कांस्य पदक जीते हैं। अपनी इस खुशी पर पूजा ने अपने शहीद पिता को सभी मेडल समर्पित करते हुए उनसे प्रेरणा लेकर देश का विदेशों में तिरंगा लहराने का संकल्प लिया है।

बता दें कि गांव मंदोला निवासी पूजा के पिता अमरचंद बीएसएफ में नौकरी करते थे। साल 2002 में कारगिल युद्ध के दौरान शहीद हो गए थे। वह भी अपने समय के अच्छे एथलीट थे। पिता का साया उठने के बाद मां अंजूबाला व परिजनों ने बेटी पूजा को देश का नाम ऊंचा करने के लिए प्रेरित किया। पूजा ने 2014 में खेलना शुरू किया था और अब तक दो गोल्ड, दस सिल्वर व दो ब्राउन मेडल जीत चुके है। 2015 में चाइना में आयोजित प्रतियोगिता में पूजा आठवें स्थान पर रही थी। वहीं साल 2018 में इंडोनेशिया में आयोजित एशियन गेम में भारत की ओर से प्रतिनिधित्व करते हुए पूजा ने छठां स्थान प्राप्त किया था। इसी वर्ष पूजा ने नेशनल स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता था। अब अहमदाबाद में हुई नेशनल रोइंग चैंपियनशीप में दो सिल्वर मेडल जीतकर क्षेत्र का नाम रोशन किया है। पूजा की दादी शांति देवी ने बताया कि पोती ने मेडल जीतकर देश का नाम ऊंचा किया है। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

Bangladesh

India

Match will be start at 10 Dec,2022 01:00 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!