कुलदीप बिश्नोई ने CM खट्टर की मौजूदगी में थाम 'कमल', पत्नी रेणुका भी हुई पार्टी में शामिल(Pics)

Edited By Isha, Updated: 04 Aug, 2022 12:59 PM

kuldeep bishnoi join bjp in presence of cm khattar

हरियाणा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुलदीप बिश्नोई ने हरियाणा विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंंने हरियाणा विधानसभा के स्पीकर को अपना इस्तीफा सौंपा।  वह आज दिल्ली में केंद्रीय नेताओं की मौजदूगी

हिसार: हरियाणा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुलदीप बिश्नोई ने कल हरियाणा विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंंने हरियाणा विधानसभा के स्पीकर को अपना इस्तीफा सौंपा था, जिसके बाद आज वो पत्नी रेणुका सहित बीजेपी में शामिल हो गए हैं। सीएम मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में उऩ्होंने बीजेपी का दामन थामा। इस दौरान सीएम में कुलदीप बिश्नोई का पार्टी में स्वागत किया। 



कांग्रेस अब इंदिरा और राजीव गांधी की पार्टी नहीं रही
गौर रहे कि इस्तीफा देते हुए कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि कांग्रेस अब इंदिरा और राजीव गांधी की पार्टी नहीं रही। भाजपा देशहित में सोचती है।  मैं साधारण कार्यकत्र्ता के रूप में पार्टी ज्वाइन कर रहा हूं। कांग्रेस अब चाटुकारों की पार्टी बनकर रह गई है। कांग्रेस के सारे फैसले गलत होते जा रहे हैं। बिश्नोई ने हुड्डा पर तंज कसते हुए कहा कि जिस शरीर में जान होती है उसी का विरोध होता है, मुर्दे का विरोध कौन करेगा। मेरे ई.डी. के सारे केस खत्म हो चुके हैं। 3 वर्ष पहले इनकम टैक्स का नोटिस आया था, उसका जवाब दे चुका हूं। 

PunjabKesari
 

क्रास वोटिंग से किया था बगावत का आगाज

हरियाणा राज्यसभा चुनाव 2022 में क्रॉस वोटिंग के बाद कांग्रेस ने कुलदीप बिश्नोई को 6 साल बाद फिर से किनारा कर लिया है। क्रास वोटिंग पर पार्टी ने कुलदीप को प्राथमिक सदस्यता से हटा दिया। कुमारी सैलजा के कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद कुलदीप बिश्नोई प्रदेशाध्यक्ष बनना चाहते थे। परंतु पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा उनकी राह का रोड़ा बने और उदयभान को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष बनवा दिए। इससे कुलदीप नाराज हो गए और राहुल गांधी से मिलने का समय मांगा। परंतु मुलाकात नहीं हुई और अंतरात्मा की आवाज पर राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार के खिलाफ वोट किया। 

PunjabKesari

इस्तीफा देते ही हुड्डा को घेरा 
बता दें कि इस्तीफा देते ही उन्होंने भूपिंदर सिंह हुड्डा को चेलेंज देते हुए कहा कि  अगर उनमें दम है तो आदमपुर से मेरे या मेरे बेटे के खिलाफ चुनाव लड़ कर दिखाएं। बिश्नोई  ने कहा कि ईडी का मुझे कोई डर नहीं, न ही मेरे खिलाफ कोई मामला है। मेरी इच्छा है कि मेरा बेटा भव्य बिश्नोई आने वाले चुनाव में मैदान में उतरे। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!