दिल्ली कूच पर मुख्यमंत्री खट्टर और किसान नेता में जुबानी भिडंत, CM बोले- हम रोकेंगे...डल्लेवाल ने कहा- उकसाओ मत

Edited By Saurabh Pal, Updated: 11 Feb, 2024 08:59 PM

farmer leader dallewal and cm manohar war of words on delhi march

किसानों के दिल्ली कूच ऐलान के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल और किसान संगठन आमने सामने हो गए हैं। किसान नेताओं ने किसानों के दिल्ली कूच को रोकने के लिए हरियाणा सरकार द्वारा किए जा रहे प्रबंधों पर नाराजगी जताई है...

चंडीगढ़ः किसानों के दिल्ली कूच ऐलान के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल और किसान संगठन आमने सामने हो गए हैं। किसान नेताओं ने किसानों के दिल्ली कूच को रोकने के लिए हरियाणा सरकार द्वारा किए जा रहे प्रबंधों पर नाराजगी जताई है। गौरतल है कि हरियाणा सरकार ने प्रदेश के 7 जिलों में इंटनेट बंद कर दिया है। बॉर्डरों पर किसानों को रोकने के लिए सड़कों को बंद किया जा रहा है। सड़क को बड़े पत्थरों कंटीले तारों से बंद किया गया है। इतना ही नहीं कई सड़कों में बड़े बड़े गड्ढे खोद दिए गए हैं।  

वहीं मुख्यमंत्री किसानों की नाराजगी पर जवाब देते हुए कहा कि किसान ट्रैक्टर पर हथियार बांधकर ले जाएंगे तो उन्हें हम क्यों ने रोंके। हरियाणा में पंजाब के किसान न घुस पाएं इसको लेकर बॉर्डर सील किए जा चुके हैं।  

PunjabKesari

किसानों को उकसा रही सरकार

किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल ने सरकार से नाराजगी जताते हुए कहा कि एक बातचीत की बात कही जा रही है। दूसरी तरफ हरियाणा के हालात बिगाड़े जा रहे हैं। बाचीत से हल नहीं निकलता तो सारे प्रबंध किए जाते। इंटरनेट बंद कर लोगों को क्यों परेशान किया जा रहा है। डल्लेवाल ने कहा कि ऐसा लगता है कि हरियाणा सरकार खुद किसानों को उकसा कर माहौल खराब करना चाहती है। सरकार बातचीत से भागना चाहती है। अगर हालात खराब होते हैं तो इसकी जिम्मेदारी खट्‌टर सरकार होगी।  

'लोकतंत्र में धरना प्रदर्शन तय मानक के अनुसार होना चाहिए' 

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली जाने से किसानों को कई रोक नहीं रहा है। जाने के कई साधन हैं बस और ट्रेन से जा सकते हैं। जरूरी है कि ट्रैक्टर से जाएं। उसके आगे हथियार बांधकर ले जाएँगे। कानून व्यवस्था का भी ध्यान रखना पड़ता है। लोकतंत्र में धरना  प्रदर्शन एक तय मानक के अनुसार होना चाहिए। 

(हरियाणा की खबरें अब व्हाट्सऐप पर भी, बस यहां क्लिक करें और Punjab Kesari Haryana का ग्रुप ज्वाइन करें।) 
(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!