नूंह में कांग्रेस को मिला समर्थन, BJP के देवी सिंह सहित कई दलों के समर्थकों ने थामा पार्टी का दामन

Edited By Manisha rana, Updated: 20 Nov, 2023 01:34 PM

devi singh left bjp joined congress

नूंह में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। जहां नूंह विधानसभा के बड़े गांव इंडरी में कांग्रेस पार्टी के विधायक चौधरी आफताब अहमद के हाथ से हाथ जोड़ो अभियान को बड़ी सफलता हासिल हुई। नूंह में कांग्रेस को मिला समर्थन,

नूंह (अनिल मोहनिया) : नूंह में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। जहां नूंह विधानसभा के बड़े गांव इंडरी में कांग्रेस पार्टी के विधायक चौधरी आफताब अहमद के हाथ से हाथ जोड़ो अभियान को बड़ी सफलता हासिल हुई। भाजपा सहित कई दलों के दर्जनों समर्थकों ने कांग्रेस का दामन थाम लिया और भाजपा को अलविदा कह दिया। इनमें चौधरी देवी सिंह प्रधान का नाम भी शामिल है। विधायक आफताब अहमद को लगातार मिल रहे समर्थन से आगामी चुनावों में कांग्रेस लगातार मजबूत हो रही है।

BJP व अन्य दलों को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए लोग

कांग्रेस विधायक दल के उप नेता आफताब अहमद ने कहा कि इंडरी उनका बड़ा गांव है। यहां से मिले समर्थन व सहयोग को वह हमेशा याद रख कर यहां के मान सम्मान को आगे रहेंगे। जो लोग भाजपा व अन्य दलों को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए हैं उनका स्वागत है। हमें सभी को इलाके के भाईचारे को मजबूत रखकर लड़ाई लडनी है। उन्होंने कहा कि आज के समर्थन से साफ है कि हिंदू-मुस्लिम सभी मिलकर विकास चाहते हैं और भाजपा को नकार रहे हैं।

आफताब अहमद ने देवी सिंह प्रधान की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने भाजपा की विभाजनकारी नीतियों से नाराज होकर व नूंह मामले को लेकर पार्टी छोड़ी है। देवी सिंह प्रधान ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की नीति सभी समाज के लोगों को साथ लेकर चलने की रही है और उनकी नियत विकास की रही है। विधायक आफताब अहमद ने चौधरी भूपेंद्र सिंह हुड्डा व कांग्रेस पार्टी में सभी के हित सुरक्षित होने की बात कही। उन्होंने कहा कि उनकी पूर्व की कांग्रेस की हुड्डा सरकार में इंडरी को बहुतकनीकी संस्थान, बिजली घर आदि की सौगात दी थी, लेकिन भाजपा सरकार ने नौ साल में कोई सौगात नहीं दी और जो घोषणा की वह भी पूरी नहीं की। इंडरी खंड में ना नायब तहसीलदार बैठा है और न ही सब तहसील कार्यालय स्थापित किया गया।

विधायक आफताब अहमद ने कहा कि भाजपा विकास की नहीं बल्कि समाज को बांटने की सोचती है। मेवात में भी वह यही कर रहे हैं। सभी को आपसी सद्भाव बना कर मिलकर रहने को कहते हुए कहा कि भाजपा के बहकावे में नहीं आना और मौजूदा सरकार का सफाया करना है। नौ साल में मेवात को विकास कार्य नहीं बल्कि दंगों की आग में झोंका गया है, आपसी भाईचारे को तोड़ने की कोशिश हुई। हाल ही में हुए नूंह के एक मामले का जिक्र करते हुए कहा कि छोटे-छोटे मामलों को आपस में बैठक सुलझाना चाहिए, उन्हें बढाना नहीं चाहिए। आफताब अहमद ने इंडरी का विकास सोहना की तर्ज पर कराने का वायदा किया। 

भाजपा छोड़कर इन्होंने थामा कांग्रेस का दामन:

चौ देवी सिंह प्रधान, धर्मवीर जैलदार, गिर्राज, भारत पूर्व सरपंच, हरबंस, नरेंद्र नंबरदार, पोहप सिंह, ओमी मास्टर ने अपने साथियों संग कांग्रेस पार्टी में आस्था व्यक्त की।

(हरियाणा की खबरें अब व्हाट्सऐप पर भी, बस यहां क्लिक करें और Punjab Kesari Haryana का ग्रुप ज्वाइन करें।) 
(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!