गले में फंदा डालकर सीएम सिटी की सड़कों पर निकले कांग्रेस कार्यकर्ता, जानें क्या है बड़ी वजह

Edited By Vivek Rai, Updated: 23 Jun, 2022 03:05 PM

congress workers protests against agnipath in cm city karnal

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गले में फंदा बांधकर अग्निपथ योजना का विरोध किया। कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए शहर में प्रदर्शन किया और जिला सचिवालय पहुंचकर रोष जताया।

करनाल : केंद्र की अग्निपथ योजना के विरोध में तमाम विपक्षी पार्टियों में कांग्रेस सबसे आगे नजर आ रही है। आए दिन देश के अलग-अलग हिस्सों में पार्टी द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। हरियाणा के करनाल में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गले में फंदा बांधकर अग्निपथ योजना का विरोध किया। कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए शहर में प्रदर्शन किया और जिला सचिवालय पहुंचकर रोष जताया। इसके बाद योजना को रद्द करने के लिए सरकार के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा। यही नहीं निकाय चुनाव में करनाल में बीजेपी की हार होने पर कांग्रेस कार्यकर्ता ने आतिशबाजी करते हुए लड्डू बांटे।

कांग्रेस नेता का आरोप, युवाओं को बेरोजगार कर अग्निपथ में भर्ती कर रही सरकार

कांग्रेसी नेता रघुवीर संधू ने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार ने पहले तो बड़ी संख्या में युवाओं को बेरोजगार किया और अब उन्हें 4 साल की अग्निपथ योजना में भर्ती किया जा रहा है। 4 साल बाद उन युवाओं का क्या होगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने बयान दिया था कि वह 4 साल के बाद अग्निवीरों को चपरासी की नौकरी देंगे। उन्होंने कहा कि पहले हरियाणा के मुख्यमंत्री प्रदेश के सभी मंत्रियों के बच्चों को पीएम चपरासी की नौकरी दें। फिर हमारे बच्चों को ऐसी नौकरी देना। सरकार अग्निपथ योजना से अदानी अडानी के साहिलों में युवाओं को भेजने के लिए ऐसी योजना तैयार कर रही है। कल जब यह युवा बेरोजगार होंगे, तो उनके ऊपर हमला करेंगे। देश में भयंकर स्थिति पैदा हो जाएगी।

अग्निपथ के विरोध में बड़ा आंदोलन करेगी कांग्रेस- त्रिलोचन सिंह

कांग्रेसी नेता त्रिलोचन सिंह ने कहा कि अग्नीपथ योजना हमारे युवाओं के साथ भद्दा मजाक है। इसके विरोध में राज्यपाल और राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भेजा है। इस योजना को तुरंत प्रभाव से रद्द किया जाना चाहिए। भाजपा सरकार को जनता ने करनाल में घुटने टेकने को मजबूर कर दिया है। जिले में मात्र एक सीट पर बीजेपी को जीत मिली है, बाकी तीन सीटों पर जो प्रत्याशी आजाद जीते हैं, वह कांग्रेस के समर्थित हैं। उन्होंने कहा कि यदि इस योजना को खत्म नहीं किया तो कांग्रेस द्वारा आने वाले दिनों में बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

India

179/5

20.0

South Africa

131/10

19.1

India win by 48 runs

RR 8.95
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!