विकास का पैसा कहां खर्च हुआ, इसे लेकर जनता को होनी चाहिए जानकारी- अरविंद शर्मा

Edited By Vivek Rai, Updated: 02 Jul, 2022 07:04 PM

public should be aware of development money spent arvind sharma

मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश सरकार को निशाने पर लेने वाले रोहतक से भाजपा सांसद डॉ अरविंद शर्मा ने आज विकास के नाम पर खर्च होने वाले पैसे की पारदर्शिता की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि विकास के लिए आए पैसे में पारदर्शिता होनी जरूरी है ।

रोहतक(दीपक): मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश सरकार को निशाने पर लेने वाले रोहतक से भाजपा सांसद डॉ अरविंद शर्मा ने आज विकास के नाम पर खर्च होने वाले पैसे की पारदर्शिता की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि विकास के लिए आए पैसे में पारदर्शिता होनी जरूरी है और हर व्यक्ति को यह पता होना चाहिए कि उनके क्षेत्र के विकास के लिए कितना पैसा आया है। उन्होंने कहा कि वह यह बात अकेले रोहतक के लिए नहीं पूरे हरियाणा के लिए कह रहे हैं। उनका कहना है कि वह सरकार से मांग करते हैं कि कोई ऐसी पारदर्शिता पॉलिसी लाई जाए, जिसके चलते प्रदेश की जनता को यह पता हो कि विकास का पैसा कहां खर्च हुआ है।

विकास का काम कर रहे ठेकेदारों को लेकर दी जाए जानकारी- शर्मा

अरविंद शर्मा आज रोहतक में एक प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। डॉ शर्मा ने कहा कि वे व्यवस्थाओं के सुधार के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। केंद्र सरकार तथा प्रदेश सरकार विकास के लिए जो पैसा भेजती है वह सही तरीके से लगना चाहिए और इसके लिए व्यवस्थाओं का पारदर्शी होना जरूरी है। ताकि विकास का पैसा जिस क्षेत्र के लिए आया है, उस क्षेत्र की जनता को यह पता हो कि कितना पैसा विकास के लिए लगाया गया है। यही नहीं ऐसे बोर्ड बनाए जाने चाहिए, जिस पर बाकायदा यह लिखा गया हो कि कौन ठेकेदार विकास का काम करा रहा है और उसने कितना पैसा विकास के कार्यों में लगाया है। वे यह आवाज एक अकेले रोहतक शहर के लिए नहीं पूरे हरियाणा के लिए उठा रहे हैं।

साथ ही मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद उनके स्वर धीमे होने को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि आलाकमान ने यह मुलाकात करवाई थी। इस बैठक में उन्होंने जनहित से जुड़े कई कार्यों का प्रस्ताव रखा, जिस पर सरकार की ओर से आश्वासन दिया गया है। उन्होंने कहा कि वह कोई चीज छुपाते नहीं है और ना ही कोई छल कपट उनके मन में है।

गौड़ ब्राह्मण जमीन को लेकर बदले शर्मा के सुर

गौड़ ब्राह्मण शिक्षण संस्थान को जमीन दिए जाने के मामले में जवाब देते हुए उन्होंने कहा की कुछ तकनीकी खामियों की वजह से देरी हो रही है। क्योंकि जो 33 साल का पट्टा पहले निर्धारित किया गया था, उसमें से 13 साल का समय जा चुका है और अब सरकार यह विचार कर रही है कि दोबारा से 33 साल का पट्टा इस जमीन के लिए दिया जाए। इसी वजह से जमीन मिलने में देरी हो रही है। यह जमीन गौड़ ब्राह्मण शिक्षण संस्थान की है और उन्हें ही मिलेगी और मुख्यमंत्री इस मामले में खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। जहां तक मनीष ग्रोवर की बात है तो मनीष ग्रोवर कभी भी अड़ंगा लगाने में पीछे नहीं रहते हैं।

रोहतक की बदहाली को लेकर हुड्डा पर निशाना

साथ ही भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर कटाक्ष करते हुए अरविंद शर्मा ने कहा कि जिस तरह से भूपेंद्र सिंह हुड्डा कल पानी में घूमते हुए नजर आए, उन्हें सरकार पर आरोप लगाने का कोई अधिकार नहीं है। क्योंकि 10 साल उनकी सत्ता रही है और 10 साल सत्ता रहने के बाद भी अगर रोहतक शहर के ऐसे ही हालात रहे हैं तो भूपेंद्र सिंह हुड्डा का कोई अधिकार नहीं बनता कि वह किसी पर आरोप लगाए। यही नहीं उन्होंने कहा कि भाजपा की 8 साल की सरकार में रोहतक के हालात काफी सुधरे हैं।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!