पार्टीबाजी के शौक ने पांच युवकों को पहुंचाया सलाखों के पीछे, बंदूक की नोंक पर सर्राफा व्यापारी से की थी लाखों की लूट

Edited By Mohammad Kumail, Updated: 14 Mar, 2023 06:07 PM

hobby of partying brought five youths behind the bars

बगैर परिश्रम आज के युवा अपने शौक पूरा करने के लिए गलत रास्तों को अपना रहे हैं। बेरोजगारी भी इन युवाओं को गलत रास्ते पर चलाने में अहम भूमिका निभा रही है...

भिवानी (अशोक भारद्वाज) : बगैर परिश्रम आज के युवा अपने शौक पूरा करने के लिए गलत रास्तों को अपना रहे हैं। बेरोजगारी भी इन युवाओं को गलत रास्ते पर चलाने में अहम भूमिका निभा रही है। भिवानी में एक मार्च को बंदूक की नोंक पर हुई एक सर्राफा व्यापारी के साथ लाखों की लूट के पांच आरोपी भी ऐसे ही रास्तों के राहगीर नजर आते हैं। जिन्होंने पार्टीबाजी के शौक में सर्राफ व्यापारी से बंदूक की नोंक पर तीन लाख रूपये, पौने तीन किलो चांदी व एक तोला सोना लूटा था। जब यह व्यापारी अपनी दुकान से शाम को घर जा रहा था तभी इन्होंने इस घटना को अंजाम दिया था। सीआईए पुलिस ने इस घटना में शामिल पांचों युवकों को पकडऩे में सफलता हासिल की है।

सीआईए के सब इंस्पेक्टरर विशेष कुमार ने बताया कि पकड़े गए पांचों आरोपियों से घटना के दौरान प्रयोग की गई दो मोटरसाईकिल, लूटी गई चांदी व एक लाख से अधिक नगद राशि बरामद की गई है। बाकी की नगद राशि को इन लुटेरों ने खर्च कर दिया है। पकड़े गए सभी युवा 20 से 25 वर्ष के बीच के हैं। उन्होंने बताया कि एक मार्च की रात को भिवानी के सर्राफा व्यापारी देवेंद्र जगन्नाथ प्रत्येक दिन की भांति जब अपने गांव बड़ाला जा रहे थे तो बीच रास्ते में सांगा-बड़ाला रोड पर पकड़े गए पांचों लुटेरो ने दो मोटरसाईकिलों से स्कूटी पर सवार सर्राफा व्यापारी को घेर लिया। उनसे बंदूक के बल पर नगदी व सोना-चांदी लूट ले गए। जिसके बाद भिवानी शहर में बड़े स्तर पर व्यापारियों ने शहर को बंद रखा और इन आरोपियों को जल्द पकडऩे की मांग की। 

सब इंस्पेक्टर विशेष कुमार ने बताया कि इस घटना के बाद सीआईए भिवानी व सदर थाना भिवानी की संयुक्त टीम ने सीसीटीवी कैमरों के आधार पर तथा शिकायतकर्ता के बयान के आधार पर सर्राफा व्यापारी के गांव बड़ाला के युवक रवि को पकड़ा। जिसकी निशानदेही पर विक्रम, मुकेश, सुनील व मोहित को गिरफ्तार किया गया तथा इनसे घटना में प्रयोग दोनों मोटरसाईकिल व सारी ज्वैलरी सहित कुछ नगद राशि भी बरामद की गई। उन्होंने बताया कि इन युवकों का पहले कोई अपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। ये इकट्ठे रहकर पार्टीबाजी करते थे तथा कोई कामधंधा नहीं करते थे। इन्हे पार्टीबाजी में खर्च करने का शौक था। जिसके चलते उन्होंने इस घटनाक्रम को अंजाम दिया। अपनी पहली ही डकैती में ये पुलिस के शिकंजे में आ गए।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!