विज की नाराजगी को लेकर कांग्रेस ने खोला मोर्चा, सोशल मीडिया पर भाजपा की जमकर 'खिंचाई'

Edited By Saurabh Pal, Updated: 03 Apr, 2024 07:02 PM

congress cheeky taunt on anil vij s displeasure with bjp

हरियाणा में लोकसभा चुनाव से पूर्व भाजपा ने एंटी इनकंबेंसी खत्म करने के लिए सरकार का चेहरा बदल दिया। इस प्रक्रिया में कई मंत्रियों समेत मनोहर लाल को भी कुर्सी गवांनी पड़ी। अब हरियाणा की कमान नायब सैनी के हाथ में है...

अंबाला(अमन कपूर): हरियाणा में लोकसभा चुनाव से पूर्व भाजपा ने एंटी इनकंबेंसी खत्म करने के लिए सरकार का चेहरा बदल दिया। इस प्रक्रिया में कई मंत्रियों समेत मनोहर लाल को भी कुर्सी गवांनी पड़ी। अब हरियाणा की कमान नायब सैनी के हाथ में है। इस सियासी उलटफेर में अनिल विज एडजस्ट नहीं हो पाए और वह नाराज हो गए। उनकी नाराजगी इस कदर बढ़ी की अभी तक वह भाजपा की चुनावी बैठकों में भाग नहीं ले रहें। वहीं विज की इस नाराजगी को अब कांग्रेस पार्टी भुनाने में जुट गई है। एक बाद एक ताबड़तोड़ हमले हरियाणा कांग्रेस के आधिकारिक एक्स हैंडल से अनिल विज पर हो रहे हैं। 

विज की नाराजगी पर कांग्रेस के ताबड़तोड़ हमले

हरियाणा कांग्रेस के X हैंडल पर लिखा ये तंज जमकर वायरल हो रहा है, हरियाणा कांग्रेस ने एक्स पर लिखा कि " 'वो इतना रूठे कि सनम ने मनाना ही छोड़ दिया... पूर्व गृह मंत्री अनिल विज के साथ उनकी पार्टी का ये रवैया आखिर क्यों है?"

PunjabKesari

इसके अलावा विज को लेकर कांग्रेस ने एक तंज और कसा जिसमें लिखा है कि " ठाडा मारै, रोवण ना दै खाट खोस लै, सोवण ना दै। एक तो @anilvijminister साहब की कुर्सी छीन ली, ऊपर से आज फरीदाबाद में कह गये कि चुनाव प्रचार का काम भी करना होगा। हरियाणा भाजपा की गुटबाजी में निपट गए विज साहब।"

PunjabKesari

मोबाइल कि दुकान पर पहुंचे विज

वहीं अनिल को एक तंज के जरिए कांग्रेस ने भाजपा से अलग-थलग बताने की कोशिश की है। इस ट्वीट में लिखा कि "पूर्व गृहमंत्री @anilvijminister जी मोबाइल की दुकान पर गये और कहा कि मेरा फोन खराब हो गया है। दुकान वाले ने फोन चेक करके कहा कि फोन तो बिल्कुल ठीक है। तो फिर विज साहब बोले कि इस पर कोई फोन क्यों नहीं आता। हरियाणा भाजपा की गुटबाजी ने विज साहब को किनारे लगा दिया।"

PunjabKesari

मैं अपने हल्के का विधायक हूं, हल्के पर दे रहा हूं ध्यान

कांग्रेस इन हमलों पर विज ने जवाब दिया कि कांग्रेस के आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने कहा कि "वह अपनी पार्टी के कार्यकर्ता हैं, मैं पार्टी से कभी नाराज़ नहीं हो सकता।" विज ने यह भी कहा कि काम करने का दायरा छोटा बड़ा हो सकता है, लेकिन मैं काम कर रहा हूँ। विज ने कहा मैं अपने हल्के का विधायक हूँ और अब मैंने अपने हल्के में ज़्यादा ध्यान देना शुरू कर दिया है।

विज बोले मैं छोटा कार्यकर्ता हूं, मीटिंग में जाते हैं बड़े लोग

बता दें कि बीते दिनों पंचकुला और गुरुग्राम में हुई लोकसभा मीटिंग में विज नहीं शामिल हुए। जब उनसे इन मीटिंगों में ना जाने को लेकर जानकारों ने पूछा तो विज ने बड़ा बयान दे डाला। विज ने कहा कि मैं एक छोटा सा कार्यकर्ता हूँ मीटिंगों में बड़े बड़े लोग ज़ाया करते हैं। विज यहीं नहीं रुके विज ने कहा कि मैं छोटा कार्यकर्ता हूँ, इसलिए मेरा कार्यक्षेत्र मेरा विधानसभा क्षेत्र है। वहीं बंतो कटारिया से मुलाकात पर कहा कि बंतो जी मुझसे मिली, लेकिन हमारे लिए कोई महत्व नहीं की टिकट किसे मिला। हमारी नज़र में लोकसभा की 543 सीटों से नरेंद्र मोदी चुनाव लड़ रहे हैं और नरेंद्र मोदी को 400 सीटें दिलाकर टार्गेट जीतना है। विज ने अंत में ये भी साफ़ किया कि अंबाला छावनी के कार्यकर्ता पूरी ताक़त लगा के अंबाला छावनी से कमल का फूल खिलायेंगे।

(हरियाणा की खबरें अब व्हाट्सऐप पर भी, बस यहां क्लिक करें और Punjab Kesari Haryana का ग्रुप ज्वाइन करें।) 
(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!