कृषि मंत्री ने गोगी को BJP में शामिल होने का दिया न्योता, भड़के विधायक ने ऐेसे दिया जवाब

Edited By Gourav Chouhan, Updated: 10 Aug, 2022 06:50 PM

agriculture minister invites congress mla gogi to join bjp

गोगी ने नहले पर दहला मारते हुए कहा कि शमशेर सिंह गोगी को कुलदीप बिश्नोई समझने की गलती मत करना। गोगी मरने के बाद भी बीजेपी में नहीं जाएगा।

चंडीगढ़(चंद्रशेखर धरणी): हरियाणा विधानसभा मानसून सत्र के तीसरे दिन प्रदेश के कृषि मंत्री ने जब असंध से कांग्रेस विधायक शमशेर सिंह गोगी को भाजपा में शामिल होने का न्योता दिया तो पूरी विधानसभा में हंसी के ठहाके छूट गए। लेकिन गोगी ने नहले पर दहला मारते हुए कहा कि शमशेर सिंह गोगी को कुलदीप बिश्नोई समझने की गलती मत करना। गोगी मरने के बाद भी बीजेपी में नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मेरे खून में है। गोगी ने कहा कि मैं कांग्रेस में था और हमेशा कांग्रेस में ही रहूंगा। इस विषय पर बातचीत के दौरान गोगी ने जेपी दलाल पर कई तीखे प्रहार करते हुए कहा कि कृषि मंत्री से पूछ लो कि वह खुद भी बीजेपी के हैं या नहीं। यही नहीं गोगी ने कहा कि जेपी दलाल को तो बीजेपी किराए पर लेकर आई है। भाजपा में जेपी दलाल को पूछता ही कौन है। गोगी ने कहा कि बीजेपी में शामिल होने का न्योता देने वाले दलाल हैं कौन होता है, गोगी तो मोदी के न्योते पर भी भाजपा में नहीं जाएगा।

 

देश का तिरंगा 20 रुपए में और मोदी की फोटो वाला थैला फ्री में बांटते हैं: गोगी

 

गोगी ने कहा कि गलत नियत वाली भाजपा पूरा दिन जात-पात और धर्म की बात करती है। हिंदू मुस्लिम की राजनीति करती है। इनका नेती कहते हैं कि कपड़े देखकर पहचान लेता हूं, टोपी वाला पाकिस्तानी और पगड़ी वाला खालिस्तानी है। फिर हिंदुस्तानी कहां चले गए। यह आरएसएस वाले राष्ट्रवाद का झूठा प्रचार करने में माहिर हैं। गोगी ने कहा कि भाजपा वाले देश का तिरंगा 20 रुपए में बेचते हैं,जबकि मोदी की फोटो वाला थैला फ्री में बांटा जा रहा था। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये लोग पूरे देश में सांप्रदायिकता के नाम पर अमृत महोत्सव मनाते हैं। इनका काम केवल नफरत फैलाकर राज करने का है।

 

औरंगजेब के जजिया टैक्स की तरह सरकार ने करनाल-असंध के बीच लगाया टोल: गोगी

 

विधानसभा सत्र के दौरान विधायक शमशेर सिंह गोगी ने असंध और करनाल के बीच में बनाए गए टोल के विरोध में भी आवाज उठाई। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से औरंगजेब ने हिंदुओं पर जजिया टैक्स लगाया था, उसी प्रकार से करनाल और असंध के बीच में यह टोल लगाया गया है। असंध के लोगों ने जब भी जिला हेड क्वार्टर में किसी अधिकारी उपायुक्त या जिला पुलिस अधीक्षक से मिलने जाना होगा तो सौ रुपए टैक्स के रूप में देने होंगे। यह बिल्कुल गलत है। मुझे लगता है कि असंध वालों पर यह टैक्स इसलिए थोपा जा रहा है, क्योंकि उन्होंने कांग्रेस का विधायक बनाया है।

 

 (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Trending Topics

India

178/10

18.3

South Africa

227/3

20.0

South Africa win by 49 runs

RR 9.73
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!