जमीन खरीदने के नाम पर 7 करोड़ की ठगी, लुटेरों ने खुद को बताया गुजरात के राज्यपाल का आदमी

Edited By Isha, Updated: 11 Jun, 2024 09:02 AM

7 crores were swindled in the name of buying land

गुजरात के राज्यपाल का आदमी बताकर जमीन दिलवाने के नाम पर तीन लोगों ने जींद के एक व्यक्ति से लगभग 7 करोड़ रुपए ठग लिए और दिलवाई गई जमीन को धोखाधड़ी से किसी और के नाम करवा लिया। डीएसपी कलायत की जांच के बाद तितरम पुलिस ने तीनों के खिलाफ धोखाधड़ी का...

कैथलः गुजरात के राज्यपाल का आदमी बताकर जमीन दिलवाने के नाम पर तीन लोगों ने जींद के एक व्यक्ति से लगभग 7 करोड़ रुपए ठग लिए और दिलवाई गई जमीन को धोखाधड़ी से किसी और के नाम करवा लिया। डीएसपी कलायत की जांच के बाद तितरम पुलिस ने तीनों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

जींद के जवाहर नगर निवासी कमल कुमार ने तितरम थाना में शिकायत दी कि उसका इलेक्ट्रिकल का काम है। उसकी गांव हरसौला निवासी सुनील कुमार व पंचकूला निवासी राधाकृष्ण के साथ जान पहचान हो गई। ये दोनों जमीन की खरीद-फरोख्त का कार्य करते हैं। सुनील ने उसे कहा कि वह और उसका साथी राधाकृष्ण गुजरात के राज्यपाल के लिए कार्य करते हैं। वे उनका गुरुकुल बनाने के लिए गांव हरसौला व प्यौदा में जमीन खरीद रहे हैं। आप भी वहां पर जमीन खरीद लो काफी मुनाफा होगा। उसने सुनील कुमार के माध्यम से गांव हरसौला व प्यौदा जिला कैथल में कृषि योग्य भूमि पहले भी ली हुई है। 


मई 2022 में सुनील कुमार उसके कार्यालय जींद में आया और कहा कि गांव प्यौदा की मेन रोड पर 72 कनाल 14 मरले जमीन बिकाऊ है और जमीन की कीमत छह करोड़ 60 लाख होगी। जो राशि मैंने आपसे व आपके जानकारों से ट्राईडेंट सिटी पंचकूला में प्लाट देने के नाम पर व बीकानेर में जमीन खरीदने के लिए व राधाकृष्ण के वेयर हाउस में सेब खरीदने के लिए ले रखी है। वह राशि वह बयाज सहित इस जमीन में एडजस्ट कर देगा। मैंने इसकी बात पर विश्वास करके इस जमीन को खरीदने के लिए हां कह दिया। उसने उनको यह भी कहा कि वह यह रजिस्ट्री अपने व अपने परिवार के सदस्यों के नाम करवाइएगा। इस पर उसने जमीन को खरीदने के लिए हां कह दिया। 

 विभिन्न खातों कर चुका भुगतान 
2022 से लेकर अब तक उसने विभिन्न खातों में वह नकद भुगतान भी कर दिया। आरोपी सुनील ने रुपये लेने के बाद जमीन की रजिस्टरी शिकायतकर्ता के बेटे अमन मित्तल के नाम से टाइप करवाकर उस पर सभी जमीन मालिकों के फर्जी हस्ताक्षर करके उसके मोबाइल पर कॉपी भेज दी। बाद में राधाकृष्ण ने आरोपी के साथ मिलकर यह रजिस्टरी धोखाधड़ी से अपने नाम पर करवा ली। इस धोखाधड़ी में सुनील की पत्नी सोनिया भी आरोपियों के साथ रही। आरोपियों ने अलग-अलग बहाने बनाकर उससे छह करोड़ 85 लाख रुपये हड़प लिए। जांच अधिकारी एएसआई रोहताश सिंह ने बताया कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है।

Related Story

Trending Topics

India

97/2

12.2

Ireland

96/10

16.0

India win by 8 wickets

RR 7.95
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!