क्या प्रदेश की मंडियों में बंद हो जाएगा खाद, बीज और दवाइयों का व्यापार ?

Edited By Vivek Rai, Updated: 19 Jun, 2022 05:31 PM

will the trade of fertilizers seeds stop in mandis of the state

हरियाणा की अनाज मंडियों की दुकानों में खाद, बीज व दवाइयों का व्यापार बंद नहीं होगा। हालांकि कानूनन ऐसा नहीं किया जा सकता, लेकिन सरकार ने इनकी बिक्री पर कोई रोक भी नहीं लगाई है। अलबत्ता सरकार इस पर भी विचार कर रही है कि अनाज मंडियों की दुकानों में...

चंडीगढ़(धरणी): हरियाणा की अनाज मंडियों की दुकानों में खाद, बीज व दवाइयों का व्यापार बंद नहीं होगा। हालांकि कानूनन ऐसा नहीं किया जा सकता, लेकिन सरकार ने इनकी बिक्री पर कोई रोक भी नहीं लगाई है। अलबत्ता सरकार इस पर भी विचार कर रही है कि अनाज मंडियों की दुकानों में इससे जुड़े दूसरे कारोबार की भी मंजूरी दी जा सके। यह जानकारी भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व सीएम मनोहर लाल खट्टर के पूर्व मीडिया एडवाइजर राजीव जैन ने दी।

बीज, खाद की बिक्री पर रोक की फैलाई जा रही अफवाह- जैन

 राजीव जैन ने कहा कि कुछ लोग इस तरह की अफवाहें फैला रहे हैं कि अनाज मंडियों की दुकानों में बीज, खाद व दवाई आदि की बिक्री पर रोक लगाई है। जैन ने बताया कि वे इस बारे में प्रदेश के कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल से फोन पर बात भी कर चुके हैं। दलाल के साथ अगले सप्ताह वे बैठक भी करेंगे ताकि व्यापारियों से जुड़े तमाम मुद्दों पर विस्तार से चर्चा हो सके। जैन का कहना है कि अनाज मंडियों में आढ़तियों व व्यापारियों का काम फसलों के समय ही रहता है। इसके बाद वे खाली ही होते हैं। ऐसे में मंडियों की दुकानों में बीज, खाद व दवाइयों की आदि की बिक्री भी कुछ व्यापारी कर रहे हैं। इस पर सरकार ने रोक नहीं लगाई है। उनका कहना है कि उन्होंने कृषि मंत्री से इस बारे में चर्चा की है कि इन व्यापारियों को दुकानों में दूसरे काम-धंधों की मंजूरी दी जाए ताकि उन्हें नुकसान न हो।

अनाज मंडियों की दुकानों में अन्य व्यापारिक गतिविधियों को दी जा सकती है मंजूरी

जैन ने कहा कि प्रदेश में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के सेक्टरों में रिहायशी एरिया में भी सरकार की ओर से अस्पताल, क्लिनिक, वकीलों व सीए आदि के दफ्तरों की मंजूरी दी जाती है। यह कमर्शियल गतिविधियां हैं। कृषि मंत्री के सामने भी यह मुद्दा उठाया गया है। उनका कहना है कि जल्द ही कृषि मंत्री से मुलाकात कर इस मुद्दे पर विस्तार से चर्चा होगी ताकि अनाज मंडियों की दुकानों में अन्य व्यापारिक गतिविधियों को भी मंजूरी दी जा सके।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!