जब तक मैं जिंदा हूं, लघु सचिवालय व कोर्ट को शिफ्ट नहीं होने दूंगा : हुड्डा

Edited By Isha, Updated: 05 Jun, 2022 02:24 PM

will not allow shifting of mini secretariat and court hooda

पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रोहतक लघु सचिवालय और न्यायिक परिसर को शहर से बाहर शिफ्ट करने की चर्चाओं पर कड़ी

रोहतक: पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रोहतक लघु सचिवालय और न्यायिक परिसर को शहर से बाहर शिफ्ट करने की चर्चाओं पर कड़ी आपत्ति दर्ज करवाते हुए कहा कि जब तक भूपेंद्र सिंह हुड्डा जिंदा है, तब तक ऐसा नहीं होने देंगे। सरकार ने अगर ऐसा कोई फैसला लिया है तो उसे तुरंत वापस ले। क्योंकि, इस वक्त इन दोनों परिसरों की लोकेशन बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन से नाममात्र दूरी पर है। आम लोग बड़ी आसानी से यहां तक पहुंच सकते हैं।

 शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रोहतक में पत्रकार वार्ता के दौरान पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस के कार्यकाल में लोगों की सुविधा के लिए डी.सी. आवास, एसपी आवास, मॉडल स्कूल, तहसील, पुलिस लाइन, कैनाल रेस्ट हाउस, कंज्यूमर फोरम, डाकखाना, बैंक और इनकम टैक्स ऑफिस को आसपास बनवाया गया था। ताकि, अलग-अलग सरकारी कामों के लिए लोगों को यहां-वहां चक्कर न काटने पड़ें। 

अगर, मौजूदा सरकार ने लघु सचिवालय और न्यायिक परिसर को यहां से दूर शिफ्ट किया तो ना सिर्फ वकीलों, कोर्ट में काम करने वाले मुंशी और कर्मचारियों को बल्कि अलग-अलग कार्यों के लिए सरकारी दफ्तरों में आने वाले लोगों को भी भारी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सरकार ने इस बारे में अब तक न जिले के विधायकों से बात की और न ही बार पदाधिकारियों से सलाह मशविरा किया। सरकार अगर चंद लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए ऐसा निर्णय लेती है तो इससे इलाके के लोगों को भारी परेशानी होगी। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!