हरियाणा पुलिस में गलत काम होते हैं, इसलिए दे रहा हूं इस्तीफा: EHC आशीष कुमार(VIDEO)

Edited By Gourav Chouhan, Updated: 22 Sep, 2022 06:17 PM

एसपी के नाम लिखे त्यागपत्र में आशीष कुमार ने हरियाणा पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने जुआ, नशा और अवैध शराब जैसे संगीन मामलों में पुलिस की 100 प्रतिशत संलिप्तता होने का आरोप लगाया है।

पानीपत(सचिन): अपने ही पुलिस विभाग से हटकर उच्च अधिकारियों के आदेशों के विरुद्ध काम करने वाले पानीपत पुलिस के EHC(अनुकरणीय हेड कांस्टेबल) आशीष कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। एसपी के नाम लिखे त्यागपत्र में आशीष कुमार ने हरियाणा पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने जुआ, नशा और अवैध शराब जैसे संगीन मामलों में पुलिस की 100 प्रतिशत संलिप्तता होने का आरोप लगाया है।

 

आशीष कुमार का दावा आरोपियों को भगाने में पुलिस ने की मदद

 

हरियाणा पुलिस के सिंघम कहे जाने वाले आशीष गुरूवार दोपहर लघु सचिवालय पहुंचे और पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार के नाम अपना त्यागपत्र सौंपा। EHC आशीष कुमार ने बताया कि 19, 20 और 21 सितंबर को अतिक्रमण व यातायात ड्यूटी के दौरान उन्होंने तहसील कैंप थाना एरिया में नशीले पदार्थ व अवैध शराब पकड़ने के साथ ही जुआ को लेकर भी कार्रवाई की थी। उनका दावा है कि यह अवैध काम पुलिस के सरंक्षण में ही चल रहे हैं। 21 सितंबर को पुलिस ने सादी वर्दी में मौके पर पहुंचकर नशा तस्करों को भागने में मदद की है। त्यागपत्र में आशीष ने लिखा कि पुलिस सरंक्षण में चल रहे अवैध कार्यों से आहत होकर वे पुलिस विभाग की नौकरी छोड़ कर सन्यास लेने के लिए बाध्य हो गए हैं।

 

पुलिस विभाग में गलत काम होते देख विवश रहने की कही बात

 

एसपी के नाम लिखे त्यागपत्र में आशीष कुमार ने लिखा कि मैं पुलिस विभाग द्वारा इस तरह के अवैध काम होते हुए नहीं देख सकता हूं। हरियाणा पुलिस में एक कर्मचारी होने के बावजूद भी वे विभाग द्वारा अवैध धंधा करने वालों को दिए जा रहे संरक्षण को लेकर कोई कदम नहीं उठा पा रहे हैं। ऐसे कामों पर तुरंत प्रभाव से रोक लगनी चाहिए। सब कुछ जानते हुए भी वे इन कार्यों को रोकने में सक्षम नहीं हैं। इसलिए उन्होंने नौकरी छोड़ने का फैसला लिया है। हालांकि अभी तक उनका त्यागपत्र मंजूर नहीं किया गया है। आशीष कुमार द्वारा हरियाणा पुलिस पर लगाए गए आरोप बेहद गंभीर हैं। लिहाजा बड़ा सवाल यह है कि क्या आशीष द्वारा पुलिस विभाग पर लगाए गए आरोपों की जांच कर कोई कार्रवाई की जाएगी या फिर विभाग द्वारा उनका त्यागपत्र मंजूर करने की बजाए उनके ऊपर ही कोई एक्शन लिया जाएगा।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

India

178/10

18.3

South Africa

227/3

20.0

South Africa win by 49 runs

RR 9.73
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!