पलवल में ‘अग्निपथ‘ योजना को लेकर हिंसा, इंटरनेट बंद, दर्जभर लोग हिरासत में लिए गए

Edited By PTI News Agency, Updated: 17 Jun, 2022 09:48 AM

pti story

पलवल में ‘अग्निपथ‘ योजना को लेकर हिंसा, इंटरनेट बंद, दर्जभर लोग हिरासत में लिए गए फरीदाबाद, 16 जून (भाषा) केंद्र की सैन्य बलों में अल्प अवधि के लिए भर्ती योजना ‘अग्निपथ’ के खिलाफ युवाओं का प्रदर्शन हरियाणा के पलवल में बृहस्पतिवार को हिंसक हो...

फरीदाबाद, 16 जून (भाषा) केंद्र की सैन्य बलों में अल्प अवधि के लिए भर्ती योजना ‘अग्निपथ’ के खिलाफ युवाओं का प्रदर्शन हरियाणा के पलवल में बृहस्पतिवार को हिंसक हो गया। इस दौरान पथराव और गाड़ियों में आगज़नी की गई। पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए बल प्रयोग किया और प्रशासन ने इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है। पुलिस ने करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ पलवल में प्रदर्शनकारियों ने उपायुक्त कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया और राष्ट्रीय राजमार्ग 19 को जाम कर दिया।

अधिकारियों ने बताया कि घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर प्रदर्शनकारियों पर हल्का बल प्रयोग किया जिसके चलते प्रदर्शनकारी आक्रोशित हो गए और पुलिस पर पथराव कर दिया और पुलिस की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया।

ड्यूटी मजिस्ट्रेट नरेंद्र सिंह ने बताया, “प्रदर्शनकारियों द्वारा तोड़फोड़ व आगजनी कर सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाया है। जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्यवाही शुरू कर दी गई है।”
उन्होंने बताया कि जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है तथा इंटरनेट सेवा भी फिलहाल बंद कर दी गई है।

पलवल के पुलिस अधीक्षक मुकेश मल्होत्रा ने एक बयान में बताया कि घटना में दो एसएचओ (थानेदार) सहित 15 पुलिस कर्मचारियों को गंभीर चोटें आई हैं, जबकि पांच सरकारी गाड़ियों को उपद्रवियों ने जलाकर नष्ट कर दिया।

उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने जिला उपायुक्त कैंप कार्यालय में भी पथराव कर दिया और कैंप कार्यालय के भीतर दाखिल हो गए और गार्ड कक्ष में आग लगा दी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि स्थिति को नियंत्रण करते हुए पुलिस ने बल का प्रयोग किया, जिसमें हल्का लाठीचार्ज व आंसू गैस के गोले छोड़े गए।

पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग 19 को खाली कराकर यातायात को सुचारू रूप से चलाया।

मल्होत्रा ने बताया कि इस बाबत दो प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं और दो विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि हिंसा में शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

उन्होंने कहा कि उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए दल दबिश दे रहे हैं और मामले से जुड़े एक दर्जन से अधिक उपद्रवियों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

पलवल के अलावा गुरूग्राम, जींद और रेवाड़ी में भी प्रदर्शन हुए हैं। जींद में प्रदर्शनकारियों ने सरकार का पुतला भी दहन किया।

वहीं इस घटना के बाद फरीदाबाद पुलिस भी सतर्क हो गई है। फरीदाबाद के पुलिस आयुक्त कमिश्रर विकास कुमार अरोड़ा ने सभी उपायुक्तों (डीसीपी), सहायक पुलिस आयुक्तों (एसीपी) थाना व चौकी प्रभारियों को अलर्ट रहने के निर्देश जारी किए है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह के मुताबिक, पुलिस आयुक्त ने कहा है कि फरीदाबाद में किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने दशकों पुरानी रक्षा भर्ती प्रक्रिया में आमूल-चूल परिवर्तन करते हुए थलसेना, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘‘अग्निपथ’’ योजना की मंगलवार को घोषणा की थी जिसके तहत सैनिकों की भर्ती चार साल की लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर की जाएगी।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!