शराब ठेकेदार पर हुआ था जानलेवा हमला, गैंगस्टर प्रसन्न लंबू सहित 15 को सजा

Edited By Isha, Updated: 14 May, 2022 09:55 AM

liquor contractor was attacked

नूरवाला बस स्टैंड पर शराब ठेकेदार अजीत व उसके साथी सागर को गोलियां मार दी थी आरोपितों की गोलियों से उन्हीं का साथी गोयला का मनीष उर्फ मुखियां भी मारा गया था। प्रसन्न उर्फ लंबू व उसके सात

पानीपत: नूरवाला बस स्टैंड पर शराब ठेकेदार अजीत व उसके साथी सागर को गोलियां मार दी थी आरोपितों की गोलियों से उन्हीं का साथी गोयला का मनीष उर्फ मुखियां भी मारा गया था। प्रसन्न उर्फ लंबू व उसके सात साथियों को 14 साल और सात गुर्गों को उम्रकैद हुई।

दोषियों को 14.70 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। जुर्माना न देने पर दोषियों को एक-एक साल की सजा और काटनी पड़ेगी। सजायाफ्ताओं में गैंगस्टर सिवाह के प्रसन्न उर्फ लंबू, बुआना लाखू के राकेश उर्फ राकू कुख्यात पेशेवर अपराधी हैं। लंबू हत्या, हत्या के प्रयास, लूट सहित डेढ़ दर्जन संगीन मामले में प्रदेश के विभिन्न थानों में दर्ज हैं।

 
यह है मामला  
सिवाह के गैंगस्टर प्रसन्न उर्फ लंबू की शराब ठेकेदार अजीत उर्फ जीता निवासी गांव खलीला प्रहलादपुर से रंगदारी मांगने को लेकर रंजिश चल रही थी। इस रंजिश के चलते अजीत पर तीन बार जान लेवा हमले हो चुके थे। इसके बाद अजीत व उसके परिजनों को पानीपत प्रशासन ने जहां हथियारों के लाइसेंस बनाए, वहीं सुरक्षा कर्मी भी दिए। अजीत के छोटे भाई सुरेंद्र पहलवान ने पुलिस को शिकायत दी कि 19 दिसंबर 2020 को अजीत अपने गनमैन दिलबाग, कार चालक अमर व साथी सागर के साथ नूरवाला बस स्टैंड पर अपने शराब के ठेके पर आया था। यहां पर सात-आठ युवकों ने ने फायरिंग शुरू कर दी। दोनों पक्षों फायरिंग में अजीत व कार चालक सागर गोलियां लगने से घायल हो गए। जबकि जवाबी फायरिंग भी हुई।  

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Gujarat Titans

Rajasthan Royals

Teams will be announced at the toss

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!