हरेंद्र हत्याकांड : गांव के किसी घर में नहीं जला चूल्हा, घटना को लेकर ग्रामीणों में रोष, पुलिस ने दो आरोपी पकड़े(VIDEO)

Edited By Mohammad Kumail, Updated: 01 Jun, 2023 09:08 PM

बीते दिन रेवाड़ी के बस अड्डे पर स्टूडेंट हरेंद्र कुमार हत्याकांड से उसके गांव ढोकिया के ग्रामीणों में भारी रोष है। आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से गुस्साए ग्रामीण बड़ी संख्या में वीरवार को एसपी दीपक सहारन से मिलने जिला सचिवालय पहुंचे...

रेवाड़ी (महेंद्र भारती) : बीते दिन रेवाड़ी के बस अड्डे पर स्टूडेंट हरेंद्र कुमार हत्याकांड से उसके गांव ढोकिया के ग्रामीणों में भारी रोष है। आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से गुस्साए ग्रामीण बड़ी संख्या में वीरवार को एसपी दीपक सहारन से मिलने जिला सचिवालय पहुंचे। ग्रामीणों ने एसपी को बताया कि गांव में कल से किसी के घर भी चूल्हा नहीं जला है। आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द होनी चाहिए।

वहीं पुलिस सूत्रों के मुताबिक बीती देर रात पुलिस ने दो नाबालिग आरोपियों को हिरासत में लिया है। इस हत्याकांड में कुल 8 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इनमें एक धीरज और मच्छर भी शामिल बताया गया है, जिस पर पहले से आपराधिक केस दर्ज है। बताया जा रहा है कि हिरासत में लिए गए दोनों नाबालिग आरोपी भी वारदात में शामिल थे, जिनसे अन्य आरोपियों के बारे में पूछताछ की जा रही है। इस हत्याकांड को सुलझाने के लिए दो सीआईए की टीमें लगी हुई है। एक टीम राजस्थान में छापेमारी कर रही है।

एसपी दीपक सहारन ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि अपराधी को सजा दिलाना पुलिस का काम है और मैं अपराधियों को फांसी की सजा तक लेकर जाऊंगा।

बता दें कि बीते दिन दोपहर के वक्त रेवाड़ी के गांव ढोकिया निवासी हरेंद्र कुमार का दिनदहाड़े रेवाड़ी के बस स्टैंड के अंदर चाकूओं से गोदकर कत्ल कर दिया गया था। हमलावरों ने उसके पेट और छाती पर चाकू से वार किए। घाव ज्यादा गहरे होने के कारण काफी खून बह गया और हरेंद्र की जान चली गई। वहीं वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए और हरिंदर को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। हालांकि शुरुआत में पुलिस को मृतक की पहचान करने में काफी मुश्किल हुई, लेकिन देर शाम उसकी पहचान होने के बाद जांच आगे बढ़ी तो हमलावरों की भी पहचान हो गई थी।

आपको यह भी बता दें कि इसी सत्र में मृतक हरेंद्र ने 12वीं की परीक्षा पास की थी, जिसके बाद उसने रेवाड़ी की ब्रास मार्केट से कंप्यूटर की कोचिंग शुरू की थी। हरेंद्र के पिता धर्मेंद्र सरकारी टीचर हैं। उनके दो बेटे हैं, जिनमें मृतक हरेंद्र बड़ा था। हालांकि अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि हरेंद्र का आरोपियों के साथ किस बात को लेकर झगड़ा हुआ था।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)       

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!