अनिल विज बोले प्रदेश में ऐसी स्थिति देखना चाहता हूं कि लोग कहें- हरियाणा आ गया-नशे का नाम नहीं लेना

Edited By Manisha rana, Updated: 26 Jun, 2022 06:39 PM

anil vij said that i want to see such a situation in the state that people say

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि ‘हरियाणा में नशे का कोई नाम भी न लें, लोग कहें कि हरियाणा की सीमा आ गई और नशे का नाम मुंह पर भी नहीं होना चाहिए...

चंडीगढ़ (धरणी) : हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि ‘हरियाणा में नशे का कोई नाम भी न लें, लोग कहें कि हरियाणा की सीमा आ गई और नशे का नाम मुंह पर भी नहीं होना चाहिए, ऐसी स्थिति मैं हरियाणा में पैदा करना और देखना चाहता हूं’। विज आज हरियाणा स्टेट नॉरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो द्वारा अंर्तराष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के अवसर पर मधुबन, करनाल में आयोजित ‘मिशन नशा मुक्त हरियाणा’ के स्टेट एक्शन प्लान के लांचिंग समारोह को वर्चुअल संबोधित कर रहे थे। कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद गृह मंत्री अनिल विज ने अपने आवास से पूरे समारोह में वर्चुअल हिस्सा लिया और समारोह को संबोधित कर हरियाणा को नशा मुक्त बनाने एवं इस अभियान में जुड़ने के लिए सभी से आह्वान किया। 

गृह मंत्री अनिल विज ने जोर देकर कहा कि ‘जो लोग समाज में नशे रूपी इस जहर को घोल रहे हैं, हमें उनको पकड़ना है। हम सब मिलकर ही इस कार्य को कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि आज अंतरराष्ट्रीय नशा निषेध दिवस है और सारे विश्व में नशे के विरूद्ध कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। मगर, उनका मानना है कि नशे के विरूद्ध लड़ाई केवल एक दिन मनाने से नहीं हो सकती। हमें ‘नशे पर प्रहार हर रोज करना है और बार-बार प्रहार करने से ही नशा पूरी तरह से खत्म हो सकता है’। 

मंत्री ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल का अभिनंदन करते हुए कहा कि हम सब मिलकर हरियाणा को नशा मुक्त करेंगे, हम हरियाणा को खुशहाल और आगे बढ़ते देखना चाहते हैं। हम हरियाणा को बर्बाद होते नहीं देखना चाहते, इसके लिए हमें दिन-रात मेहनत करनी पड़े, हम मेहनत करेंगे। इससे पहले, श्री विज ने कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, सांसद श्री संजय भाटिया, विधायक हरविंद्र कल्याण, मुख्य सचिव संजीव कौशल, डीजीपी पीके अग्रवाल, एडीजीपी श्रीकांत जाधव का स्वागत किया। 

अनिल विज ने कहा कि सभी विभाग, समाज के सभी अंग जब नशे के खिलाफ एकजुट होंगे और तब यह जन आंदोलन बनेगा, यह खाली अखबारों या टीवी की सुर्खियां बनकर जनता की आवाज बनेगा, तभी इस नशे को यहां से उखाड़ कर फेंका जा सकता है। नशे के खिलाफ तैयार योजना में पंचायत, वार्ड से लेकर प्रदेशस्तर तक समितियां बनाने की बात कहीं गई है। हमारे सामने सभी काम है, जो बीमार है उसको ठीक भी करना है, लोग नशे की ओर आकर्षित न हो इसके लिए जागरूकता कार्यक्रम भी चलाने है ताकि लोगों व बच्चों को इसकी बुराइयों के बारे में पहले से ही आगाह किया जा सके। 

गृह मंत्री ने कहा कि ‘योजना बनाए और फिर योजना पर काम करें, यह दोनों चीजें आवश्यक हैं’। यदि आप बिना योजना बनाए हवा में लाठियां चलाते हैं तो कोई नतीजा निकलने वाला नहीं, अगर आप योजना बनाकर उस पर काम नहीं करते हो तो भी कोई नतीजा निकलने वाला नहीं। जहां तक योजना की बात है, वह समझते हैं कि एनसीबी एवं श्रीकांत जाधव की टीम ने एक फूलप्रुफ योजना प्रदेश के सामने रख दी है और हम सबको मिलकर इस पर काम करना होगा तभी हम इस नशे रूपी राक्षस से समाज को बचा सकते हैं। नशा बहुत तेजी से बढ़ रहा है। हालांकि हम काम भी कर रहे हैं और पुलिस ने बहुत सारे केस पकड़े हैं। जिन लोगों ने नशे के माध्यम से संपत्ति बनाई हमने उन्हें अटैच भी किया और बुलडोजर भी चलाए हैं। मगर, फिर भी हम अपने इस संगठन को और मजबूत करना चाहते हैं। हम पूरी तरह से सारे संसाधन और ताकत लगा देंगे नशे के खिलाफ लड़ने के लिए ताकि नशे को हम जड़ से उखाड़कर फेंक दे। 

विज ने कहा कि वह काफी गंभीरता से देखते हैं कि आज जितने भी प्रतिस्पर्धा परीक्षाएं हो रही हैं उनमें बेटियां आगे आ रही हैं जोकि खुशी की बात है। मगर, बेटे कहां जा रहे हैं, बेटे पीछे क्यों रह रहे हैं। कहीं वह गलत आदतों में तो नहीं पड़ते जा रहे, हमें उनके बारे में सोचना होगा। हमें सभी स्कूल व कालेजों में हाजिरी का भी रिकार्ड चैक करना होगा कि कौन-कौन से विद्यार्थी है जो नियमित गैर हाजिर रह रहे हैं। हमें उन पर भी ध्यान देना होगा और नजर रखनी होगी। इस कार्य के लिए हमारी पंचायत समितियां, वार्ड समितियां, शहर समितियां मदद करेंगी और हम बकायदा इन समितियों को काम देंगे। ऐसे ही समितियां बनाकर छोड़ा नहीं जाएगा बल्कि चैक कवाया जाएगा कि कहीं युवा व समाज गलत रास्ते पर तो नहीं जा रहे, कहीं वह भटक तो नहीं रहे। आज हमें अपने समाज को बचाना है और प्रदेश को मजबूत करना है। हमें अपने देश को मजबूत करना है, इसलिए हम पूरी ताकत लगाएंगे। 

गृह मंत्री ने एडीजीपी श्रीकांत जाधव को बधाई देते हुए कहा कि उन्होंने काफी सोचकर एवं तकनीक का सहारा लेकर हर पहलु पर विचार किया और नशे के खिलाफ एक्शन प्लान तैयार किया। उन्होंने यह विकल्प भी छोड़ा है कि आगे कहीं और भी इसमें तबदीली करनी होगी तो की जाएगी। श्री विज ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद और भरोसा है कि एनसीबी और इसके अधिकारी नशे के खिलाफ अभियान में लगे हैं, वह अंजाम तक पहुंचेगा। वह एनसीबी को इसके लिए दिल की गहराईयों से अभिनंदन करते हैं। संबोधन के अंत में गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि ‘श्रीकांत जाधव जी आप आगे बढ़िए हम सब आपके साथ है, यह सारा दायित्व आपका नहीं, अब हम सब मिलकर इस काम को करेंगे’।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!