चुनाव लड़ने को लेकर हुड्डा का बड़ा बयान, बोले- मेरा इरादा नहीं...शैलजा-सुरजेवाला लड़े Election

Edited By Isha, Updated: 27 Mar, 2024 02:20 PM

hooda s big statement regarding contesting elections

पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर कहा कि उनका कोई इरादा नहीं है  ।  उन्होंने कहा कि कुमारी सैलजा व सुरजेवाला कांग्रेस के सीनियर नेता हैं अगर वे चुनाव लड़ते हैं, तो उन्हें खुशी होगी।

रोहतकः पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर कहा कि उनका कोई इरादा नहीं है  ।  उन्होंने कहा कि कुमारी सैलजा व सुरजेवाला कांग्रेस के सीनियर नेता हैं अगर वे चुनाव लड़ते हैं, तो उन्हें खुशी होगी। पूर्व सीएम ने हाईकोर्ट का आभार व्यक्त किया और हरियाणा के ब्राह्मण, ओबीसी व एससी समाज को बधाई दी, क्योंकि, हाईकोर्ट ने कांग्रेस सरकार द्वारा बनाए गए भूमि सुधार कानून को मान्यता दी है। हाईकोर्ट ने इसे पूरी तरह संवैधानिक करार देते हुए इसकी सराहना भी की है।

पूर्व सीएम हुड्डा मंगलवार को डी-पार्क स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बरसों पहले हरियाणा के अलग-अलग गांवों में अन्य स्थान से आकर कई वर्ग बस गए थे। उन वर्गों को पंचायतों व अन्य किसी ने जमीन दान में दी थी। इन वर्गों को दोहलीदार, बूटीमार, भोंडेमार और मुकरारीदार कहा जाता है। इनमें ब्राह्मण, पुरोहित, पुजारी, जांगड़ा ब्राह्मण, नाई, प्रजापत, लोहार, वाल्मिकी, धानक, गोस्वामी, स्वामी, बड़बुजा, धोबी, तेली अन्य कारीगर आदि वर्गों के लोग शामिल थे।

बरसों से उस जमीन पर रहने, बसने व खेती करने के बावजूद इन वर्गों को जमीन का मालिकाना हक नहीं मिल पाया था। इसलिए, न वो इस जमीन को आगे बेच सकते थे और न ही किसी तरह का लोन ले सकते थे। इन तमाम वर्गों को मालिकाना हक दिलवाने के लिए कांग्रेस सरकार ने भूमि अधिनियम 2010 लागू किया था, लेकिन, 2018 में भाजपा सरकार ने उस कानून को निरस्त कर दिया।  

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!