नशे ने उजाड़ा परिवार: संतोष देवी ने दो बेटों व पति को खोया, घर से भी हुई बेघर

Edited By Manisha rana, Updated: 01 Jul, 2022 12:20 PM

drugs ruined family santosh devi lost two sons and husband

फतेहाबाद के रतिया क्षेत्र में कई सालों में नशे के कारोबार ने गांव से लेकर शहर के वार्डों तक में अपने पांव पसारे है। जहां रतिया शहर के वार्ड नंबर 12 की निवासी बुजुर्ग महिला

फतेहाबाद : फतेहाबाद के रतिया क्षेत्र में कई सालों में नशे के कारोबार ने गांव से लेकर शहर के वार्डों तक में अपने पांव पसारे है। जहां रतिया शहर के वार्ड नंबर 12 की निवासी बुजुर्ग महिला संतोष देवी का भी नशे ने पूरा घर परिवार उजाड़ दिया। वहीं पिछले चार सालों में उसने अपने दो बेटों और पति को खो दिया है और दामाद भी नशेड़ी है जिसके चलते वह अपनी बेटी अपने पास रखने को मजबूर हैं।

बताया जा रहा है कि नशे के चलते जहां संतोष देवी का अपना घर बिक गया है अब वह किराए के घर में छोटे बेटे व बेटी और दोहते से साथ रह रही है। संतोष देवी ने बताया कि कई साल पहले वह अपने घर में पति व तीन बेटों व एक बेटी के साथ रहती थी। कॉलोनी में नशेड़ी युवाओं की संगत के चलते उसका बड़ा बेटा नशे का आदी हो गया। नशा न मिलने के चलते 21 जून 2018 को उसके बेटे जगसीर ने आत्महत्या कर ली। बेटे की मौत के बाद उसके पति चेतराम और छोटा बेटा कृष्ण शराब का नशा करने लगे। इसके चलते पति चेतराम की 2018 में मौत हो गई। पिता की मौत के बाद छोटा बेटा कृष्ण भी चिट्टे सहित अन्य नशे की दलदल में धंसने लगा। इस कारण उनका अपना मकान भी बिक गया। फिर 29 मई को कृष्ण ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 

संतोष देवी ने कहा हैं कि उसने अपनी बेटी ऊषा का विवाह कुछ समय पहले हिसार जिले के गांव में किया था। बेटे का 10 साल का बेटा भी है। मगर उनका दामाद भी नशे का आदी है। उसकी बेटी के साथ हर रोज मारपीट करता था। इसके चलते कुछ समय पहले वह तंग आकर अपनी बेटी को अपने घर ले आई।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!