महिलाएं ईलाज में भरोसा कर रही नारी अमृत सिरप एवं कैप्सूल पर

Edited By Gaurav Tiwari, Updated: 01 Apr, 2023 07:43 PM

women are relying on nari amrut syrup and capsule

महिलाएं जिन्हें अनियमित पीरियड्स होते हैं या बहुत ज्यादा ब्लीडिंग या खून के थक्के बनते हैं, या मासिक धर्म के दौरान बहुत दर्द होने लगता हैं, उन्हें नारी अमृत सिरप का सेवन जरूर करना चाहिए।

गुडगांव ब्यूरो : आज हम बात करेंगे महिलाओं में होने वाली समस्याओं के बारे में, जिसमें लड़कियों और महिलाओं में सबसे बड़ी तकलीफ उभरकर सामने आती अनियमित पीरियड्स जिसे (मासिक धर्म) भी कहते हैं, ये समस्या काफी आम हो गई है। ऐसे में आज हम इस तकलीफ को दूर करने के लिए राजस्थान औषधालय प्रा.लि. द्वारा निर्मित नारी अमृत सिरप और कैप्सूल - अमृत सिरप एवं कैप्सूल के फायदे के बारे में बात करेंगे। आपको बता दें कि नारी अमृत सिरप अशोक, शतावरी, नोनी, शूंठी, मरिच, पीपली जैसी जड़ी-बूटियों से बनाई गई हैं,

 

 

नारी अमृत सिरप और कैप्सूल किस तरह फायदेमंद हैं, आईये जानते हैं - वे महिलाएं जिन्हें अनियमित पीरियड्स होते हैं या बहुत ज्यादा ब्लीडिंग या खून के थक्के बनते हैं, या मासिक धर्म के दौरान बहुत दर्द होने लगता हैं, उन्हें नारी अमृत सिरप का सेवन जरूर करना चाहिए। नारी अमृत सिरप के सेवन से मासिक धर्म से जुड़ी लगभग हर समस्या दूर हो जाती है। आपको बता दें कि नारी अमृत सिरप अशोक, सतावरी, नोनी, शूंठी, मरिच, पीपली जैसी कई आयुर्वेदिक औषधियों द्वारा तैयार किया गया एक हर्बल टॉनिक है, जो मासिक धर्म से जुड़ी हर समस्या से निजात दिलाने में मददगार साबित होता है, इसलिए इसका नाम नारी अमृत है। Nari Amrut Syrup इम्यूनिटी को मजबूती देने में कारगर -  नारी अमृत सिरप इम्यूनिटी को मजबूत करने में फायदेमंद साबित होता हैं, क्योंकि इसके अंदर शतावरी पाया जाता हैं, जो शरीर को बैक्टीरिया और फंगल संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। ऐसे में नारी अमृत सिरप का सेवन महिलाओं के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, और साथ ही कई बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करता है।

 

 

ऐंठन की समस्या को दूर करने में फायदेमंद - पीरियड्स से पहले ही कुछ लड़कियों को पेट में दर्द और ऐंठन जैसी समस्या होने लगती हैं। लेकिन कई लड़कियों में यह समस्या माहवारी से कई दिन पहले शुरू हो जाती है, इसके लिए नारी अमृत सिरप एवं कैप्सूल में अशोक जैसी जड़ी बूटी का इस्तेमाल किया गया हैं, जो कि महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए वरदान है। अशोक एक ऐसा वृक्ष हैं, जिसे आयुर्वेद में स्त्राीयों के दुःख को दूर करने वाला वृक्ष माना जाता है। इसको स्त्राीयों का मित्रा भी कहा जाता हैं, जो महिलाओं के स्वास्थ्य से संबंधित विषयों में अत्यधिक लाभदायिक हैं, मासिक धर्म से संबंधित जितनी भी समस्याएं हैं, उनके लिए अशोक बेहद फायदेमंद माना जाता है, जिसका समावेश नारी अमृत में किया गया हैं, ऐसे में इस समस्या से निजात पाने के लिए नारी अमृत आपके लिए काफी कारगर साबित होता है।

 

 

आपको बता दें कि नारी अमृत सिरप में त्रिफला के गुण पाए जाते हैं, त्रिफला में मौजूद कुछ विटामिन्स और मिनरल्स मासिक धर्म में ऐंठन के उपचार में सामूहिक रूप से बहुत उपयोगी होते हैं, ऐसे में Nari Amrut सिरप पीरियड्स के दौरान होने वाली ऐंठन को दूर करने में मददगार साबित रहता है। तनाव और वजन को नियंत्रित करने में Nari Amrut Capsule के फायदे - आपको बता दें कि वजन बढ़ने का एक कारण तनाव भी हैं, ऐसे में तनाव को दूर करने में नारी अमृत सिरप और कैप्सूल बहुत काम आ सकता है। क्योंकि इसमें नोनी के गुण मौजूद होते हैं, जो न केवल तनाव को दूर रख सकते हैं, बल्कि इस तनाव हार्माेन के स्तर को कम करने के साथ-साथ वजन को नियंत्रित करने में भी मदद करता हैं। ऐसे में आप नारी अमृत सिरप का इस्तेमाल तनाव दूर करने के लिए कर सकते है। खून की कमी दूर करने में नारी अमृत सिरप के फायदे - अक्सर देखा जाता हैं, कि महिलाओं में पीरियड्स के दौरान ब्लीडिंग बहुत ज्यादा बढ़ जाती है, जिससे महिलाओं के शरीर में खून की कमी हो जाती है। कई बार अधिक खून बहने से भी एनीमिया का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में नारी अमृत सिरप एवं कैप्सूल इन समस्या को दूर करने में मदद करता हैं। इसी के साथ शरीर में आयरन की कमी को दूर करने में फायदेमंद है।

 

 

महिलाओं की कमजोरी दूर करने में लाभदायक- जब महिलाओं को पीरियड्स के दौरान ज्यादा थकान महसूस होती हैं, तब थकान और चक्कर आना जैसी समस्याएं आम हो जाती हैं, इस वजह से वे उदास और थका हुआ महसूस करती हैं, ऐसे में उन महिलाओं को सुबह और शाम खाना खाने के बाद नारी अमृत सिरप जरूर पीना चाहिए। नारी अमृत सिरप का सेवन कैसे किस तरह करें - नारी अमृत सिरप खासकर महिलाओं के लिए बनाया गया हैं, ऐसे में इसका सेवन करना बहुत ही आसान है। इस सिरप को खाना खाने के बाद दिन में दो बार लिया जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए राजस्थान औषधालय प्रा. लि. की वैबसाईट पर देखा जा सकता है। एक्सपर्ट कहते हैं, कि नारी अमृत सिरप के जड़ी बूटियों द्वारा निर्मित एक हर्बल टॉनिक हैं, जिसमें कई आयुर्वेदिक औषधीय का मिश्रण मिलाया गया हैं। इसलिए इस सिरप से ज्यादा साइड इफेक्ट नहीं देखे गए हैं। लेकिन फिर भी नारी अमृत सिरप का अधिक मात्रा में सेवन करने से पहले स्वास्थ्य विशेषज्ञ की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

 

 

आईये जानते हैं, नारी अमृत सिरप में मिली आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों बारे में - आरएपीएल गु्रप की डॉ. शितल गोसावी का मानना हैं, कि जिस प्रकार से नारी अमृत सिरप और कैप्सूल में अशोक की सूखी छाल का उपयोग किया गया हैं, जो कि गर्भाशय टॉनिक के में अत्यधिक लाभदायिक माना जात हैं, इसमें अत्यधिक मासिक धर्म प्रवाह या भारी रक्तस्त्राव को कम करने में मदद करता है, और मासिक धर्म चक्र की अनियमितताओं, पेट दर्द, ऐठन जैसे बड़े लक्षणों में भी इसका उपयोग किया जाता है। वहीं उन्होंने बताया कि आयुर्वेद में शतावरी का बड़ा महत्व हैं, जिसमें शतावरी का उपयोग सदियों से आयुर्वेद में महिला प्रजनन प्रणाली को सुदृढ़ बनाने के लिए किया जाता रहा है, यह शरीर के शारीरिक और मानसिक तनाव को दूर करने में मदद करता हैं, शतावरी शीत, स्निग्ध गुण होते हैं जो वात और पित्त को शांत और संतुलित करने में मदद कर सकते है।

 

 

डॉ. गोसावी कहती हैं, कि शतावरी का उपयोग महिला के प्रजनन चक्र के सभी चरणों के लिए किया जा सकता है, जिसमें मासिक धर्म की शुरुआत से शुरू होकर, मासिक धर्म, ओव्यूलेशन और प्रजनन क्षमता के माध्यम से महिला प्रणाली का स्वास्थ्य बनाये रखता हैं, और दाह, चिड़चिड़ापन, अनियमित स्मृति और रजोनिवृत्ति के दौरान सूखापन जैसे लक्षणो मे यह उपयोगी हैं शतावरी ओजस रोग प्रतिरोधी शक्ती को अत्यअधिक बढ़ावा देता हैं। डॉ. शितल के अनुसार इन सभी महत्वपूर्ण जड़ी-बूटियों का उपयोग नारी अमृत सिरप एवं कैप्सूल में किया गया हैं, जिसके सेवन से महिलाओं से संबंधित बिमारियों को दूर किया जा सकता है।

 

Related Story

Trending Topics

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!