समाधान शिविर में डीसी ने सुनी 36 शिकायतें, 5 का मौके पर ही किया समाधान

Edited By Pawan Kumar Sethi, Updated: 11 Jun, 2024 05:56 PM

dc hear complaints of residents in camp held his office in gurgaon

डीसी निशांत कुमार यादव की अध्यक्षता में मंगलवार को लघु सचिवालय के सभागार में समाधान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में नागरिकों की प्रॉपर्टी, आईडी, परिवार पहचान पत्र, राशन कार्ड, बिजली, पानी तथा विभिन्न सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं आदि समस्याएं...

गुड़गांव, (ब्यूरो): डीसी निशांत कुमार यादव की अध्यक्षता में मंगलवार को लघु सचिवालय के सभागार में समाधान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में नागरिकों की प्रॉपर्टी, आईडी, परिवार पहचान पत्र, राशन कार्ड, बिजली, पानी तथा विभिन्न सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं आदि समस्याएं सुनी गई। समाधान शिविर में कुल 36 शिकायतें सुनी गई जिसमें से 5 का तत्काल निवारण किया गया। वहीं 5 शिकायतों के लिए 2 दिन, 17 शिकायतों के लिए एक सप्ताह, 8 शिकायतों के लिए 15 दिन व एक शिकायत में निवारण के लिए संबंधित अधिकारियों को एक महीने का समय दिया गया। वहीं, डीसी ने हेडक्वार्टर स्तर पर पाॅलिसी से संबंधित शिकायतों के समाधान के लिए अलग से शिकायत सूची तैयार करने के निर्देश दिए।

गुड़गांव की खबरों के लिए इस लिंक https://www.facebook.com/KesariGurugram पर क्लिक करें।

 

शिविर के दौरान डीसी निशांत कुमार यादव ने कहा कि सरकार के निर्देशानुसार ही सुबह नौ बजे से 11 बजे तक जिला मुख्यालय और उपमंडल स्तर पर समाधान शिविरों का आयोजन शुरु कर दिया गया है। यह सरकार की नई पहल है। उन्होंने बताया कि इन शिविरों में मुख्यतया: जनता से सीधे रूप से जुड़े प्रॉपर्टी आईडी, परिवार पहचान पत्र, जमीन रजिस्ट्रेशन, स्थानीय शहरी निकाय से संबंधित मकान का नक्शा तथा नो ड्यूज प्रमाण पत्र, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाएं, राशन कार्ड और राशन वितरण, बिजली, पानी, सिंचाई आदि के अलावा क्राइम संबंधित समस्याएं सुनी जाएंगी। डीसी ने शिविर में उपस्थित संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि शिविर में आने वाली समस्याओं को तीन श्रेणियों में बांटा जाए। उन्होंने कहा कि जिन शिकायतों का निवारण तत्काल हो सकता है उन्हें प्रथम श्रेणी में रखा जाए।

 

एक सप्ताह के भीतर समाधान होने वाली शिकायतों को द्वितीय श्रेणी में रखा जाए। उन्होंने कहा की ऐसी शिकायतों के निवारण के उपरांत शिकायतकर्ता से फ़ोन पर फीडबैक भी लिया जाएगा। वहीं मुख्यालय स्तर पर बनाए जाने वाली पालिसी से जुड़ी शिकायतों की अलग सूची तैयार की जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सरकार का लक्ष्य है कि लोगों को उनकी समस्याओं के निदान के लिए एक सिंगल प्लेटफार्म उपलब्ध कराकर उनका मौके पर ही समाधान किया जाएगा। जिला स्तर का समाधान शिविर लघु सचिवालय स्थित सभागार में प्रत्येक कार्य दिवस में सुबह नौ से 11 बजे तक आयोजित होगा, जिसमें संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहेंगे।

 

उन्होंने बताया कि शिविर में करीब पचास लोग परिवार पहचान पत्र, पीपीपी, गली निर्माण, रास्ता अवरुद्ध करने व खाद्य एवं पूर्ति विभाग से संबंधित अपनी समस्याएं लेकर पहुंचे। मौके पर मौजूद डीसी निशांत कुमार यादव ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश देकर समस्याओं का तुरंत समाधान करवाया। डीसी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि समाधान शिविर में आने वाले नागरिकों की समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर निवारण करें। नागरिकों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो और उनको एक समस्या के लिए अधिकारियों के पास बार-बार न आना पड़े। डीसी ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे शिविरों में स्वयं उपस्थित होकर गंभीरता के साथ जनता की समस्याओं को सुनें व उनका हर संभव समाधान करें। इस मौके पर एडीसी हितेश कुमार मीणा, गुरुग्राम के एसडीएम रविंद्र कुमार, सीटीएम कुंवर आदित्य विक्रम, ओएसडी टू डीसी प्रीति रावत सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे। 

Related Story

Trending Topics

India

97/2

12.2

Ireland

96/10

16.0

India win by 8 wickets

RR 7.95
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!