स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने अनिल विज से उनके निवास पहुंच की शिष्टाचार पूर्ण भेंट

Edited By Vivek Rai, Updated: 15 May, 2022 05:04 PM

gyanchand gupta made a courtesy call on anil vij to reach his residence

हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता रविवार को हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के निवास स्थान अंबाला कैंट पहुंचे तथा उनसे शिष्टाचार पूर्ण भेंट की। अनिल विज तथा ज्ञान चंद गुप्ता दोनों पुराने मित्रों में से एक हैं। ज्ञान चंद गुप्ता...

चंडीगढ़(धरणी): हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता रविवार को हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के निवास स्थान अंबाला कैंट पहुंचे तथा उनसे शिष्टाचार पूर्ण भेंट की। अनिल विज तथा ज्ञान चंद गुप्ता दोनों पुराने मित्रों में से एक हैं। ज्ञान चंद गुप्ता अतीत में भी कई बार अनिल विज के निवास स्थान पर जाकर उनसे समय कालीन मुद्दों पर चर्चा करते रहें हैं।

राजनीतिक व्यवस्थाओं के चलते गृह मंत्री अनिल विज तथा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता दोनों काफी व्यस्त रहते हैं। ज्ञान चंद गुप्ता राजनीतिक व सामाजिक रूप से अपने सभी मित्रों से लगातार जब भी उन्हें समय मिलता है मुलाकात करते रहते हैं। हरियाणा भाजपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ भी इस मामले में पीछे नहीं रहते। उन्हें भी जब समय मिलता है तो वह अपने मित्रों से मिलने उनके निवास स्थान पर पहुंच जाते हैं।

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज की भी यही खूबी है कि वह अपने मित्रों से हड़ताल में रखते हैं तथा उनके साथ खड़े होते हैं। गृह मंत्री अनिल विज तथा स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता दोनों का राजनैतिक स्टाइल लगभग एक जैसा है। अनिल विज जहां अपने विधानसभा क्षेत्र अंबाला छावनी के विकास कार्यों के लिए दिन रात सक्रिय रहते हैं। वही आम जनता की सुनवाई के लिए भी वह अक्सर उपलब्ध रहते हैं। यही कारण है कि अंबाला छावनी से वह छठी  बार विधानसभा में बतौर विधायक पहुंचे हैं। अंबाला छावनी विधानसभा सीट कभी भाजपा के दिग्गज नेता तथा केंद्रीय मंत्री रहे स्वर्गीय सुषमा स्वराज का गढ़ रही है।

आज यह अनिल विज का गढ़ बनी है तो उसका प्रमुख कारण यह है कि अनिल विज अंबाला छावनी की जनता के साथ हर पल हर मोर्चे पर खड़े रहे हैं। 2014 में हरियाणा के अंदर भाजपा की सरकार आने के बाद अनिल विज ने जिस प्रकार से अंबाला छावनी के विकास को गति दी वह अतीत में कभी भी किसी राजनीतिक हस्ती ने नहीं दी है।

 हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता जो पंचकूला से विधायक है तथा लगातार दूसरी बार विधायक बने हैं। उन्होंने भी पंचकूला के विकास के लिए भरसक प्रयास लगातार किए हैं। अतीत में कालका विधानसभा सीट दो हिस्सों में विभाजित हुई थी जिनमें एक कालका व दूसरी विधानसभा पंचकूला बनी थी। कभी पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय भजनलाल के बेटे चंद्रमोहन का गढ़ रही इस विधानसभा सीट पर ज्ञान चंद गुप्ता ने विकास कार्यों को गति देने में कोई कसर नहीं छोड़ी है और विधानसभा अध्यक्ष के नाते ज्ञान चंद गुप्ता जहां एक सख्त व कायदे कानून से चलने वाले विधानसभा अध्यक्ष माने जाते हैं वही मानवीय पहलू से आम आदमी के दुख सुख में खड़े होने उनकी आदत का लाभ भी उन्हें मिलता है।

2019 के विधानसभा चुनावों में भाजपा की गठबंधन सरकार में अनिल विज को गृह मंत्रालय मिला। कोविड-19 की पहली व दूसरी लहर के दौरान अनिल विज लगातार हरियाणा सचिवालय आते रहे। बाथरूम में स्लिप हो जाने पर दुर्घटनाग्रस्त होने की स्थिति में भी उन्होंने अपने कामकाज पर बीमारी का कोई प्रभाव नहीं डलने दिया। हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता तथा अनिल विज में अंबाला छावनी उनके निवास पर हुई मुलाकात को ज्ञान चंद गुप्ता शिष्टाचार की भेंट बता रहे हैं। लेकिन इसमें कोई संशय नहीं है कि यह दोनों पुराने मित्र हैं तथा अक्सर ऐसे मुलाकात करते रहते हैं।

 

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

Match will be start at 28 Jun,2022 10:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!