बड़ी लापरवाही: हाथ की जगह पैर का ऑपरेशन कर डॉक्टर बोला, सॉरी गलती हो गई

Edited By Gourav Chouhan, Updated: 03 Aug, 2022 10:33 PM

doctor says sorry after operating the leg instead of hand

मामला पलवल के नागरिक अस्पताल का है, जहां लापरवाही की सभी हदें पार करने के बाद डॉक्टर ने मरीज को बोला कि सॉरी गलती हो गई है। यही नहीं परिजनों ने डॉक्टर पर ऑपरेशन की एवज में 4000 रुपए रिश्वत लेने का भी आरोप लगाया है।

पलवल(दिनेश): सड़क हादसे में घायल युवक जब हाथ का ऑपरेशन करवाने के लिए सरकारी अस्पताल में दाखिल हुआ तो डॉक्टरों ने कुछ ऐसा कर दिया जिसके बाद सरकारी अस्पतालों की कार्यप्रणाली को लेकर गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। लापरवाह सर्जन ने युवक के हाथ की बजाए उसकी टांग का ऑपरेशन कर दिया। मामला पलवल के नागरिक अस्पताल का है, जहां लापरवाही की सभी हदें पार करने के बाद डॉक्टर ने मरीज को बोला कि सॉरी गलती हो गई है। यही नहीं परिजनों ने डॉक्टर पर ऑपरेशन की एवज में 4000 रुपए रिश्वत लेने का भी आरोप लगाया है। इस पूरे मामले में सीएमओ को एक लिखित शिकायत सौंपकर परिजनों ने लापरवाही डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

 

सड़क हादसे में घायल युवक के बाद हाथ का होना था ऑपरेशन

 

पीड़ित युवक का नाम प्रिंस है और पलवल के गांव घोड़ी का रहने वाला है।  बीती दो जुलाई की सुबह वह गांव से पलवल के लिए निकला था। रस्ते में एक अज्ञात वाहन ने उसे टक्कर मार दी। टक्कर लगने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। सूचना मिलते ही परिवार के लोगों ने प्रिंस को जिला नागरिक अस्पताल में दाखिल कराया था। हादसे में प्रिंस   के हाथ में काफी चोट आई थी। मगर नागरिक अस्पताल में मौजूद डॉक्टर ने हाथ के स्थान पर पैर का ऑपरेशन कर दिया।  प्रिंस के पैर में रोड डाल दी गई। प्रिंस के पिता ने बताया कि जब उन्हें इसका पता चला तो उनके होश उड़ गए। उन्होंने तुरंत इसके बारे में अस्पताल के आला अधिकारियों को सूचित  किया। मगर उनकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हुई।  इसके बाद उन्होंने हंगामा किया तो उनकी सुनवाई हुई। उन्होंने इसके बाद जिला नागरिक अस्पताल के सिविल सर्जन को अपनी शिकायत देकर डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

 

हड्डी रोग विशेषज्ञ पर पहले भी रिश्वत के लग चुके आरोप

 

बता दें कि हड्डी विशेषज्ञ डॉक्टर संदीप सोनी पर इससे पहले भी इलाज के नाम पर पैसे वसूलने के आरोप लगे थे।  मगर जांच के दौरान वह सही नहीं पाए गए थे। एसएमओ अजय के अनुसार इस मामले में मिली शिकायत के आधार पर उचित कार्रवाई की जाएगी। यदि डॉक्टर दोषी मिलता है तो उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बोर्ड के द्वारा इस पूरे मामले की जांच की जाएगी।

 

 (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!