EXCLUSIVE: प्रेम-प्रसंग में रोड़ा बन रहा था अनिल, पत्नी संग मिल कर दी हत्या, यूँ हुआ खुलासा...

  • EXCLUSIVE: प्रेम-प्रसंग में रोड़ा बन रहा था अनिल, पत्नी संग मिल कर दी हत्या, यूँ हुआ खुलासा...
You Are HereHaryana
Wednesday, January 10, 2018-12:19 PM

टोहाना (सुशील सिंगला): गांधी नगर निवासी अनिल का शव भूना के पास काजलहेडी हैड से बरामद कर लिया है। वहीं इस हत्या मामले में अनिल की पत्नी व उसका प्रेमी भी गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ कि, हत्या से पहले अनिल शराब के नशे में था, इसी बात का फायदा उठाते हुए पत्नी के प्रेमी ने मफलर से गला घोंट कर अनिल की हत्या कर दी और शव को नहर में फेंक दिया। अनिल के अचानक लापता हो जाने पर उसके परिजनों ने पुलिस पर कार्रवाई में स्पष्टता लाने के लिए जोर दिया था, जिसके फलस्वरूप इस हत्याकांड का खुलासा हुआ और अब हत्यारोपी पुलिस हिरासत में है।

PunjabKesari

डीएसपी जोगिंद्र शर्मा ने बताया कि, गांधीनगर निवासी देशराज ने शिकायत दी थी कि उसकी पुत्रवधू अमरजीत ने एक अन्य व्यक्ति विनोद उर्फ मोदी के साथ मिलकर उसके बेटे का अपहरण किया है। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच करते हुए हर एंगल से जांच की। इस दौरान पुलिस ने आरोपी विनोद एंव अनिल की पत्नी अमरजीत को गिरफ्तार कर लिया है।

PunjabKesari

अनिल के बेटे की स्टेटमेंट में मिला क्लू
मृतक अनिल के बेटे ने पूछताछ के दौरान बताया कि, विनोद उसके पिता को अंतिम बार मोटरसाईकिल पर बैठा कर ले गया था, जिसके बाद से उसके पिता घर वापिस नही लौटे। इस मामले में पुलिस ने आरोपी विनोद से जब सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना अपराध कबूल कर लिया।

कुछ इस तरह दिया घटना को अंजाम
पुलिस के अनुसार, पूछताछ के दौरान विनोद ने बताया कि, उसने और अनिल ने पहले साथ बैठ कर शराब पी थी। किसी से झगड़ा होने का बहाना बताते हुए वह अनिल को मोटरसाईकिल पर बिठाकर अपने साथ ले गया। इसके बाद विनोद ने अपने गले से मफलर निकालकर अनिल का गला दबा दिया। दम घुटने से अनिल की मौत हो गई, जिसके बाद विनोद ने अनिल के शव को नहर में फेंक दिया। विनोद ने मोटरसाईकिल व मफलर को भी ठिकाने लगा दिया था। हालांकि, ये मफलर व मोटरसाईकिल बरामद कर ली गई है।

अमरजीत व विनोद में चार साल का प्रेम-प्रसंग
आरोपी विनोद का मृतक अनिल के घर आना जाना था इस दौरान ही विनोद ने अनिल की पत्नी से प्रेम-प्रसंग शुरू किया। दोनों के बीच लगातार चार साल से यह प्रेम प्रसंग चल रहा था, जब विनोद के रास्ते में अनिल आड़े आने लगा तो उसकी पत्नी का ही साथ लेकर अनिल की हत्या कर दी। 

6 दिन बाद पुलिस ने जोड़ी हत्या की धारा
इस मामले में पुलिस ने शीघ्रता से कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज किया था, लेकिन मृतक के परिजन पुलिस कार्रवाई से संतुष्ठ नहीं थे। परिजनों ने एसएचओ सिटी से मुलाकात की। तब जाकर मृतक के बेटे के ब्यान पर पुलिस ने मामले में हत्या की धारा 302 तथा मृतक की पत्नी को 120 बी में गिरफ्तार किया। पुलिस ने दोनो को न्यायालय में पेश कर दिया। जिसके बाद विनोद को दो दिन के पुलिस रिमांड तथा महिला अमरजीत कौर को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। बता दें कि, परिजनों ने पुत्रवधू अमरजीत पर विनोद के साथ प्रेम-प्रसंग का भी आरोप लगाया था।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन