अब हरियाणा में पशु चिकित्सक लेंगे खाद्य पदार्थों के सैंपल, रणदीप सुरजेवाला ने ली सरकार की चुटकी

Edited By Gourav Chouhan, Updated: 19 Sep, 2022 04:31 PM

now veteran doctors in haryana will take food samples randeep surjewala tweeted

पशुपालन विभाग के डॉक्टर ही अब सैंपल भरकर खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता की जांच करेंगे। सुरजेवाला ने राज्य की खट्टर सरकार के फैसले पर ट्वीट के जरिए निशाना साधते हुए कहा कि खट्टर सरकार के फैसले कमाल के होते हैं।

डेस्क: कांग्रेस के राज्यसभा सांसद रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रदेश सरकार के उस फैसले पर चुटकी ली है, जिसमें फूड एंड ड्रग विभाग द्वारा पशुपालन विभाग के डॉक्टरों को डेपुटेशन पर लेने की बात कही गई है। पशुपालन विभाग के डॉक्टर ही अब सैंपल भरकर खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता की जांच करेंगे। सुरजेवाला ने राज्य की खट्टर सरकार के फैसले पर ट्वीट के जरिए निशाना साधते हुए कहा कि खट्टर सरकार के फैसले कमाल के होते हैं। उन्होंने लिखा कि, ‘एक बात माननी पड़ेगी…खट्टर सरकार के फैसले बहुत कमाल के हैं…जैसे कि...सरकार का ताज़ातरीन निर्णय।  अब “पशुओं के डॉक्टर” आदमियों के खाने-पीने की चीजों के सैंपल ले, जांच करेंगे। वाह खट्टर साहेब।’



त्योहारों में मिठाइयों समेत अन्य खाद्य पदार्थों के सैंपल लेंगे पशु चिकित्सक


दरअसल खाद्य सुरक्षा विभाग में लटकी ड्रग कंट्रोलर ऑफिसर की भर्तियों के चलते विभाग के सामने संकट खड़ा हो गया है। फिलहाल 11 एमबीबीएस डॉक्टर डेपुटेशन पर विभाग के लिए काम कर रहे हैं। विभाग को पता है कि त्योहारी सीजन में 3 फूड सेफ्टी ऑफिसर और 11 डॉक्टरों से काम नहीं चलेगा। इसलिए 22 पशु चिकित्सकों को भी डेपुटेशन पर लेने का फैसला लिया गया है। त्योहारों में मिठाईयों से लेकर तमाम खाद्य पदार्थों के सैंपल लेने का जिम्मा इन पशु चिकित्सकों पर ही होगा। बता दें कि त्योहारों में मिलावटी सामग्री बिकने का ज्यादा डर रहता है। पिछले सालों में सितंबर-अक्टूबर में खाद्य सामग्री के भरे सैंपल में से 40% फेल मिले हैं। यानी खाद्य पदार्थ खाने लायक नहीं थे। रिपोर्ट आने में भी साल भर लग जाता है। तब तक सामग्री बिक चुकी होती है। इसलिए खाद्य सुरक्षा विभाग में काफी समय से अटकी फूड सेफ्टी ऑफिसर की भर्ती के चलते पशुपालन विभाग के डॉक्टरों को डेपुटेशन पर लेने के फैसले के  चलते सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है।

 

2 साल से अटकी है 41 एफएसओ की भर्ती, पशु विभाग में भी 376 पद खाली

 

सरकार के इस फैसले के पीछे सबसे बड़ी वजह यह है कि करीब 2 साल बाद की जा रही 41 फूड सेफ्टी ऑफिसर (एफएसओ) की भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया पूरी होते ही नियमों को लेकर आपत्तियां आने लगी हैं। ऐसे में फूड एंड ड्रग विभाग अब पशुपालन विभाग के डॉक्टर डेपुटेशन पर लेगा। इस फैसले के बाद पशुपालन विभाग में भी डॉक्टरों की कमी का डर सता रहा है। दरअसल पशुपालन विभाग में भी पशु चिकित्सकों के 376 पद खाली हैं। ऐसे में कई अन्य राज्यों के साथ ही हरियाणा में भी लंपी का खतरा अभी बरकरार है। पशुपालन विभाग में कुल 1144 पदों में 376 पद खाली हैं और 22 पशु चिकित्सकों को खाद्य सुरक्षा विभाग में डेपुटेशन पर लेने के बाद पशुपालन विभाग में भी डॉक्टरों की कमी हो जाएगी।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

Related Story

Trending Topics

India

178/10

18.3

South Africa

227/3

20.0

South Africa win by 49 runs

RR 9.73
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!