घर का सामान बेचकर पाल रहा था पेट, अब नाना का एक 'सिक्का' बना देगा करोड़पति

  • घर का सामान बेचकर पाल रहा था पेट, अब नाना का एक 'सिक्का' बना देगा करोड़पति
You Are HereHaryana
Thursday, August 17, 2017-1:40 PM

डबवाली (सिरसा):सफाई करते समय घर से अक्सर वेस्ट मिट्रीयल मिलता है। कभी  ये सोचा है कि उसी वेस्ट मिट्रीयल से हम करोड़पति भी बन सकते हैं, नहीं न। एेसा ही कुछ सिरसा में रहने वाले एक दुकानदार के साथ हुआ। दरअसल हुआ यूं कि घर में अचानक सफाई के दौरान उसे अपने नाना का दिया हुआ एक सिक्का मिला। उस सिक्के को साफ किया तो उस पर उर्दू में कुछ लिखा था। जांच के बाद पता चला कि वह वर्ष 1450 का इस्लामिक सिक्का है, जिस पर एक व्यक्ति ने डेढ़ करोड़ रुपए देने की पेशकश की है। दुकानदार का नाम गौरी शंकर है और वह सीट कवर बनाने का काम करते हैं। 

उनका कहना है कि घर की हालत मंदी होने के कारण इन दिनों वह घर का पुराना सामान बेचकर पेट पाल रहा है। गत रविवार को जब वह घर में पुराना सामान खोज रहा था तो पुराने संदूक में से एक पुराना सिक्का मिला। सिक्के को अच्छी तरह से साफ किया तो उस पर उर्दू भाषा में कुछ लिखा था। इसके बाद वह नरसिंह कॉलोनी स्थित मस्जिद में पहुंचा और मौलवी को सिक्का दिखाया, जिसे देख वह भी दंग रह गए। 

उन्होंने बताया कि इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार यह सिक्का वर्ष 1450 के समय का है और इस पर मदीना शहर लिखा हुआ है। उसने कहा कि करीब 567 वर्ष पुराने सिक्के की फोटो अपने मित्रों के जरिए दुबई तक पहुंचाई तो वहां के एक व्यक्ति ने इसे खरीदने के लिए डेढ़ करोड़ रुपए की कीमत लगाई। परन्तु जब गौरीशंकर ने ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट पर इसकी जांच करवाई तो पता चला कि सिक्के का बेस प्राइज 3 करोड़ रुपए है। सिक्के की कीमत का पता चलने के बाद दुकानदार ने उसे बैंक के लॉकर में रख दिया है। बांग्लादेश में दो और पाकिस्तान में एक सिक्के की बोली लगाई गई है। वह सिक्के को साढ़े तीन करोड़ रुपये में बेच देगा।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You