...तो क्या सिर्फ फोटो सैशन के लिए बस से गई थी हरियाणा सरकार ?

  • ...तो क्या सिर्फ फोटो सैशन के लिए बस से गई थी हरियाणा सरकार ?
You Are HereHaryana
Sunday, December 17, 2017-8:57 PM

चंडीगढ़(धरणी): अत्यंत जोश के साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री, अधिकांश मंत्री व अफसर सचिवालय से 2 वोल्वो बसों में सवार होकर टिम्बरट्रेल गए थे। जहां टिंबर ट्रेल जाने के लिए निजी वाहनों पर सीएम ने तो रोक लगाई थी, लेकिन सीएम खुद ही अपने आदेशों की धज्जियां उड़ाते दिखे। चर्चा थी कि सीएम वापसी भी वोल्वो बसों में ही लौटेंगे, पंरतु ऐसा न होने से यही कयास लगाए जा रहे हैं कि, प्रदेश से सीएम व उनके मंत्रीमंडल का साधारण रूप से बसों में जाना दिखावे मात्र था। जो बसें हिमाचल के लिए रवाना हुई थी वह सभी खाली सीट ही लौटी।

PunjabKesari

वापसी पर एक वोल्वो बस में केवल एक आईएएस दंपत्ति बैठ कर वापसी आए बाकी अधिकारी एक-दूसरे अधिकारियों की गाडिय़ों में बैठ कर वापस लौटे। वहीं मंत्रीगण अपनी सरकारी गाडिय़ों में वापिसी लौटे। वोल्वो बस सुबह 9 बजे टिम्बरट्रेल पर पहुंच गई थी, लेकिन जिन सवारियों ने उसमे बैठ कर आई थी वही वोल्वो तक नहीं पहुंची। बस चालक, परिचालक जीएम चंडीगढ़ डिपो आशुतोष राजन भी ऑन ड्यूटी नजर आए।

वोल्वो बस के वी वी आई पी तो नदारद हो गए व निजी वाहनों का सहारा लिया ,कुछ एक ने अपने कनिष्ठ अधिकारियों से गाडिय़ां मंगवाई। वीवीआईपी सवारियों वाली बस के आगे राज धर्म की अनुपालना पंचकूला पुलिस ने भी की,सुबह से ही वोल्वो के आगे पंचकूला पुलिस की पायलट लगा दी गई थी।

सरकारी गाडिय़ों से हुई टिंबर टे्रेल के पर्यटकों को परेशानी
चिंतन शिविर के अंतिम दिन रविवार हरियाणा के कई मंत्रियों व अधिकारियों की सरकारी गाडिय़ां मुख्यमंत्री मनोहरलाल के आदेशों को धता बता यहां पहुंची। टिम्बर ट्रेल के बाहर राष्ट्रीय राज मार्ग पर व अंदर की पार्किंग में सरकारी वाहनों का जमावड़ा लगा रहा। टिम्बर ट्रेल पर रविवार को वीकेंड होने पर वैसे भी भारी भीड़ रहती है, जिसमें हरियाणा सरकार के करीब 60 वाहनों के जमावड़े से राष्ट्रीय राजमार्ग पर कई बार जमा लगा। रविवार को पर्यटकों को इससे भारी दिक्कत का सामना करना पड़ा। शाम लगभग 4 बजे तक सीएम की टीम के लौटने पर पर्यटकों को राहत मिली।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन