CET के लिए अब तक 10 लाख से अधिक अभ्यर्थी करा चुके हैं पंजीकरण

Edited By Manisha rana, Updated: 18 Jun, 2022 03:14 PM

so far more than 10 lakh candidates have registered for cet

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा 100 से ज्यादा विभागों, बोर्डों, निगमों और विश्विद्यालयों में ग्रुप सी के 26 हजार पद भरे जाने हैं...

चंडीगढ़ (धरणी) : हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा 100 से ज्यादा विभागों, बोर्डों, निगमों और विश्विद्यालयों में ग्रुप सी के 26 हजार पद भरे जाने हैं। इसके लिए आयोग ने सीईटी यानि कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट का विज्ञापन जारी कर दिया है। अभ्यर्थी 8 जुलाई तक परीक्षा के लिए पंजीकरण करा सकते हैं और 13 जुलाई तक फीस कन्फर्मेशन हो सकेगी। हालांकि जिन्होंने पहले ही निर्धारित पोर्टल पर आवेदन कर दिया है और भुगतान कर दिया है, वे सीईटी में उपस्थित होने के लिए पात्र होंगे। वे अभ्यर्थी अगर आवेदन में बदलाव या अडपेट करना चाहते हैं तो वे ऐसा करने में सक्षम होंगे। 

हरियाणा सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि सभी आवेदक 8 जुलाई, 2022 तक  https://onetimeregn.haryana.gov.in  पर पंजीकरण कराएंगे, जिसमें आवेदक की पहचान से संबंधित सभी विवरण प्रदान किए जाएंगे और आरक्षण, शैक्षिक दावा सहित योग्यता, अनुभव और सामाजिक-आर्थिक मानदंड वेटेज आदि किसी भी दावे से संबंधित सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड किए जाएंगे। प्रवक्ता ने बताया कि ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र जो हरियाणा सरकार द्वारा निर्धारित शर्तों के अनुसार है और हरियाणा सरकार में नौकरियों के लिए लागू कट-ऑफ तिथि को या उससे पहले जारी किया गया है, पर ही विचार किया जाएगा। केंद्र सरकार में नौकरियों के लिए जारी किए गए ईडब्ल्यूएस / ओबीसी प्रमाण पत्र पर विचार नहीं किया जाएगा।

प्रवक्ता के मुताबिक हरियाणा के ईएसएम उम्मीदवारों के परिवार के सदस्य के पास ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि पर वैध पात्रता प्रमाण पत्र होना चाहिए, जिसे आवेदन जमा करने के समय अपलोड किया जाना है और यदि हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा बुलाया जाता है तो संबंधित जिला सैनिक बोर्ड से वैध पात्रता प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। दिव्यांग ईएसएम विकलांगता प्रमाण पत्र अपलोड और प्रस्तुत करेगा। शहीद के परिवार के सदस्य को प्रासंगिक प्रमाण पत्र / युद्ध हताहत प्रमाण पत्र अपलोड और प्रस्तुत करना होगा जो शहीद की स्थिति को साबित करता है। प्रवक्ता ने बताया कि केवल ऑरिजनल दस्तावेजों को स्कैन कर अपलोड किए जा सकता है, किसी तरह की फोटो कॉपी मान्य नहीं होगी। 

प्रवक्ता ने साफ किया कि उम्मीदवार, जिन्होंने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, एआईसीटीई द्वारा फर्जी/अमान्य घोषित किए गए या हरियाणा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं होने वाले किसी भी बोर्ड/संस्थान से विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए डिग्री या डिप्लोमा या प्रमाण पत्र प्राप्त किया है, उन्हें विज्ञापित पदों पर भर्ती के लिए योग्य नहीं माना जाएगा। उन्होंने कहा कि सामाजिक-आर्थिक मानदंड के लाभ का दावा करने के लिए, सभी दस्तावेज / प्रमाण पत्र निर्धारित प्रारूप में होने चाहिए। 

उल्लेखनीय है कि अब तक 10 लाख से अधिक अभ्यर्थी सीईटी के लिए पंजीकरण करा चुके हैं। पंजीकरण की तिथि खत्म होने के बाद आयोग द्वारा संयुक्त पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित करवाई जाएगी। इस परीक्षा को अगस्त माह में करवाए जाने की योजना है। आयोग ने सीईटी का सिलेबस भी जारी कर दिया है। संयुक्त पात्रता परीक्षा में सामान्य ज्ञान, रीजनिंग, क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड और हिंदी-अंग्रेजी से संबंधित सवालों के साथ-साथ हरियाणा से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!