केंद्र सरकार के क्लीनिकल एक्ट का विरोध,15 को बंद रहेंगे जिले के 200 अस्पताल

  • केंद्र सरकार के क्लीनिकल एक्ट का विरोध,15 को बंद रहेंगे जिले के 200 अस्पताल
You Are HereLatest News
Wednesday, December 13, 2017-1:44 PM

कैथल(ब्यूरो):इंडियन मैडीकल एसोसिएशन द्वारा केंद्र सरकार के क्लीनिकल एस्टेब्लिशमैंट एक्ट के विरोध में आज एक ज्ञापन उपायुक्त सुनीता वर्मा को आई.एम.ए. के प्रधान डा. विजय आर्य की अगुवाई में मुख्यमंत्री के नाम सौंपा। इस अवसर पर महासचिव डा. दीपक गर्ग व कोषाध्यक्ष डा. नवीन बंसल आदि मौजूद थे। सौंपे ज्ञापन में कहा गया कि हरियाणा आई.एम.ए. के निर्देशानुसार आगामी 15 दिसम्बर को सभी प्राइवेट अस्पताल हरियाणा सरकार द्वारा केंद्र सरकार के क्लीनिकल एस्टेब्लिशमैंट एक्ट को लागू करने के विरोध स्वरूप पूर्ण तरह हड़ताल रखते हुए जिले के सभी 200 क्लीनिक बंद रखेंगे और एमरजैंसी सुविधाएं भी पूरी तरह से निष्क्रिय रहेगी। जिसकी सारी जिम्मेवारी सरकार की होगी। इसके बाद एसोसिएशन पदाधिकारी सरकारी अस्पताल में जाकर सी.एम.ओ. से मिले और ज्ञापन की प्रति सौंपी। 

इसके बाद बातचीत करते हुए आई.एम.ए. प्रधान डा. विजय आर्य ने बताया कि इससे पहले भी सरकार के साथ 6 से 8 बार सरकार के साथ बैठक हो चुकी है, जिसमें सरकार ने आश्वासन दिया था कि प्रदेश सरकार का ही एक्ट लागू करेंगे, न कि केंद्र सरकार का लेकिन अब सरकार यू-टर्न लेते हुए केंद्र सरकार का एक्ट लागू कर एसोसिएशन से किए वायदे से मुकर रही है। नया एक्ट पूरी तरह से मरीजों व डाक्टरों के हक में नहीं है। यह एक्ट काफी सख्त है तथा नॄसग होम रजिस्ट्रेशन करवाने में काफी दिक्कतें होगी। उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह से जनविरोधी कानून है जिससे लागू न होने के लिए जनता को भी डाक्टरों के साथ मिलकर इस काले कानून के विरोध में मुहिम चलानी चाहिए। आर्य ने कहा कि अगर सरकार ने चिकित्सों व मरीजों के हक में उनकी मांगों को नहीं माना तो कड़े कदम उठाने पर विवश होंगे।


 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन