नामी अस्पतालों को नोटिस, हुड्डा बोले- कितने गरीबों का इलाज किया

  • नामी अस्पतालों को नोटिस, हुड्डा बोले- कितने गरीबों का इलाज किया
You Are HereHaryana
Saturday, January 13, 2018-10:25 AM

गुडग़ांव(ब्यूरो):हुड्डा ने शहर के 3 प्रमुख अस्पतालों को नोटिस भेजकर पूछा है कि आपके अस्पताल में कितने गरीबी रेखा से नीचे रहने वालों का इलाज हुआ। हुड्डा ने फोर्टिस, आर्टिमिस व मेदांता को भेजे नोटिस में कहा कि आगामी 72 घंटे के अंदर जवाब दें कि आर्थिक रूप से कमजोर व गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले कितने लोगों का इलाज हुआ। हुडा ने नियमों का हवाला देते हुए कहा कि भूमि के आवंटन की शर्त है कि गरीबों और बी.पी.एल. मरीजों का इलाज किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि हुड्डा ने सैक्टर-38 में मेदांता को व सैक्टर-44 में फोर्टिस अस्पताल को भूखंड सस्ते दरों पर इलाज के नाम पर दिया है। इसी प्रकार आर्टिमिस अस्पताल को भी सबसिडी के आधार पर जमीन उपलब्ध कराया गया है। भू-आवंटन की शर्त रही कि उक्त अस्पताल अपने यहां के 20 फीसदी बैड आर्थिक रूप से कमजोर व गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वालों के लिए आरक्षित रखेंगे। इन अस्पतालों से इस बारे में जानकारी मिलने के बाद हुडा इसे अपनी मॉनिटरिंग कमेटी को आगे की कार्रवाई के लिए सौंप देगा

स्वास्थ्य महानिदेशक ने कहा था, रद्द करो फोर्टिस की जमीन
गत दिनों फोर्टिस अस्पताल में आद्या नाम की 7 वर्षीय बच्ची की मौत के बाद फोर्टिस अस्पताल को लेकर स्वास्थ्य महानिदेशक ने कड़ा रुख अख्तियार किया है। आद्या नामक बच्ची की डेंगू से मौत हुई थी व आरोप था कि अस्पताल प्रशासन ने न केवल इलाज में लापरवाही बरती थी, बल्कि लाखों का बिल भी थमा दिया था। इसके बाद यह मामला चर्चा में आया और अस्पताल को लेकर हुड्डा सहित स्वास्थ्य विभाग के राडार पर अस्पताल आ गया।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन