21 दिसंबर को सेशन कोर्ट के सामने पेश होगी हनीप्रीत, तय होगा किस कोर्ट में चलेगा केस(Video)

You Are HereHaryana
Monday, December 11, 2017-3:27 PM

पंचकूला(उमंग श्योराण): गुरमीत राम रहीम की राजदार हनीप्रीत को आज पंचकूला कोर्ट में पेश किया गया। पुलिस ने उसकी साथी सुखदीप कौर को भी पेश किया। इन दोनों को अंबाला से एक पैक्ड गाड़ी में कवर करके लाया गया। मामले में आज की सुनवाई में पंचकूला कोर्ट में चार्जशीट की चेंकिंग हुई। चार्जशीट की चेकिंग के दौरान हनीप्रीत अौर सुखदीप सहित सभी 15 आरोपियों को भी कोर्ट में पेश किया। जिसके बाद मामले की अगली सुनवाई के लिए 21 दिसंबर की तिथि सुनिश्चित की गई। अगली सुनवाई सेशन कोर्ट के सामने होगी, जहां फैसला होगा कि मामला कौन सी अदालत में चलेगा। 

उल्लेखनीय है कि पिछली सुनवाई में कोर्ट ने हनीप्रीत को 1200 पेज की चार्जशीट की कॉपी दी थी। पिछली सुनवाई में हनीप्रीत पहली बार अंबाला जेल से आकर कोर्ट में पेश हुई थी। इससे पहले हनीप्रीत को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश किया जाता रहा है। 

1200 पेज की चार्जशीट में हनीप्रीत के गुनाहों की चिट्ठा
हनीप्रीत साध्वी यौन शोषण मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद पंचकूला में हिंसा भड़काने और देशद्रोह मामले की आरोपी है। हनीप्रीत समेत 15 लोगों के खिलाफ एसआईटी ने सीबीआई कोर्ट में 1200 पेज की चार्जशीट दाखिल की थी। इसमें हनीप्रीत के साथ-साथ चमकौर और गुरमीत सिंह के पीए राकेश कुमार को मुख्य आरोपी बनाया गया है। जबकि इसी चालान में सुरेंद्र धीमान, गुरमीत, शरणजीत कौर, दिलावर सिंह, गोंविद, प्रदीप कुमार, गुरमीत कुमार, दान सिंह, सुखदीप कौर, सीपी अरोड़ा, खरैती लाल के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया गया है।

रिमांड में कबूली थी पंचकूला हिंसा की बात
9 दिनों के रिमांड में हनीप्रीत ने दंगों में उसका हाथ होने की बात कबूली थी। इसके अलावा पुलिस को हनीप्रीत से मोबाइल ,लैपटॉप, डायरी और कई अहम दस्तावेज मिले थे। उल्लेखनीय है कि 4 अक्टूबर को 39 दिन बाद अरेस्ट की गई हनीप्रीत को पुलिस ने दो बार करके 9 दिन के रिमांड पर लिया फिर 13 अक्टूबर को कोर्ट में पेश किया तो वहां से उसे एक साथी सुखदीप कौर समेत अंबाला सेंट्रल में ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया गया था।

आदित्य को पकड़ने के लिए पंजाब में रेड 
उधर एसआईटी ने आदित्य को पकड़ने के लिए रविवार को पंजाब में रेड की, लेकिन ये रेड फेल रही। इस रेड के दौरान आदित्य को जिस जगह पर बताया जा रहा था, वहां वो मिला ही नहीं। आदित्य के बारे में अभी तक पुलिस को जो भी ठिकाने बताए गए हैं, वहां से वह पहले ही निकल जाता है। ऐसे में रेड को संदिग्ध नजर से देखा जा रहा है।


 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन