नागरिक अस्पताल की लापरवाही, गेट पर दिया बच्ची को जन्म

  • नागरिक अस्पताल की लापरवाही, गेट पर दिया बच्ची को जन्म
You Are HereSonipat
Thursday, January 11, 2018-6:06 PM

गोहाना(सुनील जिंदल): शहर के नागरिक अस्पताल में गर्भवती बहू के साथ आई सास को स्वास्थ्य कर्मियों ने एक घंटे तक धक्के खिलाए। दुखी होकर सास बहू को गांव खानपुरकलां स्थित बी.पी.एस. राजकीय महिला मैडीकल कॉलेज के अस्पताल ले जाने लगी तो बहू ने गेट पर ही बच्ची को जन्म दे दिया। परिजनों ने स्वास्थ्य विभाग पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया।

जानकारी के अनुसार गांव माहरा निवासी गर्भवती महिला ऋतु पत्नी कृष्ण को दोपहर बाद प्रसव पीड़ा शुरू हुई। ऋतु सास संतोष के साथ नागरिक अस्पताल में पहुंची। संतोष ने बताया कि वह अनपढ़ है, ऐसे में पंजीकरण कक्ष में बैठे स्वास्थ्य कर्मियों ने उसे खाली पर्ची थमा दी। वह चिकित्सक के पास गई तो चिकित्सक ने पर्ची पर पूरा विवरण लिखवाकर लाने को कहा। वह पंजीकरण कक्ष के सामने दोबारा पहुंची तो वहां लम्बी लाइन लगी मिली। 

संतोष ने बताया कि उसने कई स्वास्थ्यकर्मियों से उसकी मदद करने की मिन्नतें की लेकिन वह उसे एक घंटे तक अस्पताल परिसर में इधर से उधर धक्के खिलवाते रहे। जब वह ऋतु को महिला मैडीकल कॉलेज के अस्पताल ले जाने के लिए गेट पर आई तो उसने वहीं बच्ची को जन्म दे दिया। सास संतोष ने स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर अनदेखी करने का आरोप लगाया। सास संतोष ने कहा कि ऋतु को दोपहरबाद से ही अधिक पीड़ा हो रही थी जिसके बाद वह अस्पताल लेकर पहुंची थी। ऋतु के पेट में बच्ची उलटी थी। अब ऋतु ने बच्ची को जन्म दिया तो वह उलटी ही पैदा हुई। ऐसे में बच्ची के साथ ऋतु को भी जान का खतरा बना हुआ है।

डॉक्टर का कहना है कि नागरिक अस्पताल के गेट पर महिला द्वारा बच्ची को जन्म देने का मामला उनके संज्ञान में है। परिजनों ने स्वास्थ्य कर्मियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए शिकायत दी है जिसकी जांच की जा रही है। जो भी दोषी पाया गया, उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन